कमजोरी के लिए क्या खाना चाहिए? | what to eat for weakness in hindi

गलत खान-पान और जीवनशैली के कारण थकान और कमजोरी जैसी समस्याएं उत्पन्न होने लगती है, तो कमजोरी दूर करने के लिए क्या खाना चाहिए या कमजोरी कैसे दूर करें?
कमजोरी के लिए क्या खाना चाहिए?

थकान और कमजोरी आज के समय में आम बात हो गई है, क्योंकि बदलती जीवन शैली और गलत खानपान की वजह से ऊर्जा के स्तर में कमी के साथ-साथ मांसपेशियां और हड्डियां धीरे-धीरे कमजोर होने लगती हैं, जिस कारण कुछ समय बाद आप थकान और कमजोरी महसूस करने लगते हैं.

कमजोरी और थकान को अलग अलग भाषा में परिभाषित कर सकते हैं. कई अध्ययनों के अनुसार कमजोरी किसी भी मांसपेशी में हो सकती है जो आपके हाथ, पाँव या पूरे शरीर को प्रभावित कर सकती है.

थकान का अनुभव असंतुलित आहार, किसी भी प्रकार के वायरस और अनिद्रा या व्यक्ति को अपनी शक्ति से ज्यादा प्रयास करने से हो सकती है.

शरीर में कमजोरी को दूर करने के लिए हम बहुत से सप्लीमेंट्स या दवाइयों का उपयोग करते हैं, परंतु संतुलित आहार एवं पोषक तत्वों से पूर्ण खाद्य पदार्थों के सेवन से भी कमजोरी को दूर करने में मदद मिल सकती है.

हमें प्रतिदिन कुछ ऐसे खाद्य पदार्थों का सेवन करना चाहिए जिनमे प्रोटीन, कैल्शियम, कार्बोहाइड्रेट, आयरन, ऊर्जा और पोटेशियम की अधिक मात्रा हो क्योंकि ये पोषक तत्व शरीर की एनर्जी और सक्रियता बढ़ाने में लाभदायक होते हैं.

तो आइए जानते हैं कमजोरी कैसे दूर करें?

कमजोरी के लक्षण | Symptoms of weakness in hindi

शरीर में जब कमजोरी और थकान महसूस होती है तो इसके कुछ लक्षण महसूस होते हैं जैसे कि

➭चक्कर आना.

➭हाथ, पांव में दर्द होना.

➭ज्यादा नींद आना.

➭उठने-बैठने और चलने में परेशानी होना या थक जाना.

➭कभी-कभी बेहोश होना.

➭किसी भी काम को करने में मन ना लगना.

➭हड्डियों और मांसपेशियों में दर्द महसूस करना.

➭घबराहट होना.

➭जी मचलना.

कमजोरी दूर करने के लिए क्या खाना चाहिए | what to eat to get rid of weakness in hindi?

शरीर की कमजोरी को दूर करने के लिए आहार में ऐसे खाद्य पदार्थों को खाएं जो पोषक तत्वों से भरपूर हो, क्योंकि शरीर को स्वस्थ रखने के लिए पोषक तत्व ईंधन के रूप में कार्य करके शरीर को शक्ति प्रदान करते हैं.

1. कमजोरी दूर करने के लिए खाएं फल (eat fruits)

शरीर की थकान एवं कमजोरी को दूर करने के लिए फलों का सेवन करना बेहद लाभदायक होता है.

इनमें बहुत से ऐसे पोषक तत्व मौजूद होते हैं जो मांसपेशियों एवं हड्डियों में होने वाली कमजोरी को दूर करते हैं.

फलों में भरपूर मात्रा में कई प्रकार के विटामिंस, डाइटरी फाइबर, प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, एनर्जी, पोटेशियम, आयरन, जिंक और कैल्शियम जैसे कई बेहद महत्वपूर्ण पोषक तत्व होते हैं.

यह पोषक तत्व शरीर की इम्युनिटी को बढ़ाकर अंदरूनी ताकत प्रदान करते हैं एवं कई गंभीर रोगों से सुरक्षा भी प्रदान करते हैं.

कमजोरी दूर करने के लिए आप रोजाना आहार में केला, चीकू, कीवी, आम, लीची और स्ट्रॉबेरी फलों को शामिल कर सकते है .

2. आंवला (Gooseberry)

शरीर से थकान और कमजोरी को दूर करने के लिए आंवला फल का सेवन भी बहुत उपयोगी होता है.

इसमें पर्याप्त मात्रा में कई तरह के विटामिन, आयरन, कैल्शियम, फास्फोरस, मैग्नीशियम, पोटेशियम पोषक तत्व मौजूद होते हैं जो कैंसर, उम्र बढ़ने, सूजन एवं शरीर की कई प्रकार की बीमारियों को दूर करने में अहम भूमिका निभाते हैं.

आंवला शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट के रूप में जाना जाता है जो शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत करके थकान व कमजोरी के लक्षणों को दूर करता है.

आप आंवला का उपयोग कैंडी, मुरब्बा, अचार या दो चम्मच शहद में दो चम्मच आंवला का रस मिलाकर पी सकते हैं.

3. अंडा (Egg)

शरीर की हड्डियों व मांसपेशियों की कमजोरी को दूर करने में अंडा बहुत ही लाभदायक होता है, क्योंकि अंडा आयरन , कैल्शियम, विटामिंस, राइबोफ्लेविन, फोलिक एसिड, अमीनो एसिड, प्रोटीन जैसे महत्वपूर्ण पोषक तत्वों से संपन्न होता है.

अंडा संतुलित आहार का हिस्सा है जो शरीर को उचित मात्रा में पोषक तत्व प्रदान करता है जिससे आंतरिक शक्ति भी बढ़ती है और कई गंभीर बीमारियों का जोखिम भी कम हो सकता है.

कई बड़े-बड़े एथलीट और जिम ट्रेनर भी शरीर की सक्रियता बढ़ाने के लिए अंडे खाने की सलाह देते हैं, इसलिए रोजाना कम से कम एक या दो अंडे का सेवन अवश्य करें.

4. सब्जियों का सेवन (eating vegetables)

जिस तरह फलों का सेवन शरीर की ताकत को बढ़ाकर कमजोरी व थकान को कम करने में मदद करते हैं उसी तरह सब्जियों का सेवन भी फायदेमंद होता है.

इनमें प्रचुर मात्रा में आयरन, कार्बोहाइड्रेट, कैल्शियम, विटामिन, फोलिक एसिड, प्रोटीन और पोटेशियम तत्व मौजूद होते हैं जो मांसपेशियों और हड्डियों को शक्ति प्रदान करते हैं.

अक्सर लोग यह पूछते हैं कि कमजोरी कैसे दूर करें?

इसके लिए इन सब्जियों को रोजाना आहार में शामिल करना चाहिए जैसे कि पालक, केल, आलू, टमाटर, शतावरी, चौलाई का साग, हरी पत्तेदार सब्जियां और बथुआ, ब्रोकली, शकरकंद, फलिया, सोयाबीन, चुकंदर, और मशरूम आदि.

कमजोरी के लिए क्या खाना चाहिए?

5. ड्राई फ्रूट्स (Dry Fruits)

फलों और सब्जियों की तरह ड्राई फूड्स भी कई महत्वपूर्ण पोषक तत्वों से संपन्न होते हैं, जो शरीर की कमजोरी को दूर करके हड्डियों व मांसपेशियों की ताकत को बढ़ाते हैं.

कमजोरी व थकान को दूर करने के लिए प्रोटीन, कैल्शियम, कार्बोहाइड्रेट और ऊर्जा तत्वों की आवश्यकता होती है जो ड्राई फ्रूट्स में अधिक मात्रा में मौजूद होते हैं.

ड्राई फ्रूट्स में आप बादाम, अंजीर, किशमिश,खजूर को शामिल कर सकते है. रात में कुछ बादाम, एक अंजीर और कुछ किशमिश को पानी में भिगोकर रख दें और सुबह उस पानी को छानकर पी लें एवं बादाम, किशमिश और अंजीर को खा लें.

6. दूध (Milk)

प्रतिदिन एक गिलास दूध का सेवन शरीर को आवश्यक पोषक तत्व प्रदान करता है जिसमें कैल्शियम, प्रोटीन कई प्रकार के विटामिन और लैक्टिक एसिड मौजूद होते हैं.

शरीर की हड्डियों और मांसपेशियों की मजबूती एवं शरीर के विकास के लिए दूध पीना बहुत लाभदायक होता है. यदि हम प्रतिदिन दूध का सेवन करते हैं तो इससे शरीर में कमजोरी का एहसास नहीं होता है.

दूध के साथ कुछ चीजों को मिलाकर सेवन करने से इसकी शक्ति दुगनी हो जाती है जैसे कि बादाम वाला दूध, हल्दी वाला दूध, बनाना शेक, दूध में शहद डालकर पीना आदि.

7. जिनसेंग की जड़ (ginseng root)

जिनसेंग की जड़ प्राचीन समय से ही एक औषधीय जड़ी बूटी के रूप में उपयोग की जा रही है. कई अध्ययनों से यह ज्ञात हुआ है कि जिनसेंग की जड़ एक बेहतरीन एनर्जी बूस्टर के तौर पर काम करती है.

इसमें पाए जाने वाले यौगिक थकान और कमजोरी जैसे विकारों को दूर करने में सक्षम होते हैं. कमजोरी को दूर करने के लिए आयुर्वेदिक दवाइयों में आज भी जिनसेंग की जड़ का उपयोग हो रहा है.

इसके उपयोग से ना केवल थकान और कमजोरी दूर होती है, बल्कि शरीर की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने, तनाव मुक्त रहने, मानसिक क्षमता को बढ़ाने, डायबिटीज और वजन घटाने में भी मददगार होती है.

जिनसेंग का उपयोग करने के लिए आप इसके पाउडर की चाय सुबह शाम पी सकते हैं.

8. कमजोरी दूर करने के लिए पिएं कॉफी (Coffee)

यदि आप काम करते हुऐ थकान और कमजोरी को महसूस करते हैं तो शरीर में तुरंत ऊर्जा एवं फुर्ती के लिए कॉफी का सेवन करे सकते है.

कॉफी में वह सभी पोषक तत्व होते हैं जो शरीर में तुरंत ऊर्जा प्रभावित करने के लिए उत्तरदाई होते हैं जैसे कि मैग्नीशियम, फास्फोरस, पोटेशियम, आयरन, ऊर्जा, प्रोटीन और फोलेट इत्यादि.

कॉफी में कैफीन तत्व मौजूद होता है जो दिमाग और तंत्रिका तंत्र की गतिविधियों की सक्रियता को बढ़ाने के लिए जाना जाता है, लेकिन कॉफी का सेवन सीमित मात्रा में ही करें.

9. पानी पीते रहें (keep drinking water)

कमजोरी महसूस होने का कारण शरीर में पानी की कमी भी हो सकती है. जब शरीर में पानी की कमी होती है तो डिहाईड्रेशन होने से थकावट महसूस होने लगती है.

इसलिए समय-समय पर पानी पीते रहे, जिससे शरीर में ऊर्जा का स्तर बढ़ता है साथ ही रक्त का संचार और ऑक्सीजन का प्रभाव भी बढ़ता है. 

प्रतिदिन कम से कम 8 से 10 गिलास पानी पीने से शरीर की ताकत बढ़ती है जिससे शारीरिक गतिविधियों को करने में थकावट महसूस नहीं होती है.

10. हेल्दी ब्रेकफास्ट करें (healthy breakfast)

यदि आप चाहते हैं कि आपकी दिनचर्या बिना थकान और कमजोरी महसूस किए हुए सुगमता पूर्वक आसानी से खत्म हो जाए तो आप सुबह का नाश्ता अवश्य करें.

सुबह के ब्रेकफास्ट में हाई प्रोटीन युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन करें जिनसे जरूरी विटामिन और खनिज तत्वों की प्राप्ति होती है जो दिन भर शरीर को ऊर्जावान बनाए रखते हैं.

सुबह के नाश्ते में आप फल, ड्राई फ्रूट्स, ओट्स ,अंकुरित बीज, अंडा, दही और पनीर का सेवन कर सकते हैं.

निष्कर्ष | Conclusion

गलत जीवनशैली की वजह से धीरे-धीरे शरीर में हड्डियां और मांसपेशियां कमजोर होने लगती हैं जिससे ऊर्जा के स्तर में गिरावट होने लगती है और कुछ समय पश्चात हम निरंतर कमजोरी महसूस करने लगते हैं.

कमजोरी होना एक आम समस्या है परंतु यह कुछ समय पश्चात एक गंभीर बीमारी का रूप ले सकती है.

इसलिए इस लेख के माध्यम से जाना की कमजोरी कैसे दूर करें या कमजोरी दूर करने के लिए क्या खाना चाहिए? 

कमजोरी दूर करने के लिए ऐसे खाद्य पदार्थों का सेवन करें जिनमें भरपूर मात्रा में विटामिंस और खनिज तत्व पाए जाते हो, क्योंकि ये तत्व ईंधन के रूप में शरीर को ताकत प्रदान करते हैं, साथ ही नियमित रूप से एक्सरसाइज भी करें.

पूछे जाने वाले प्रश्न | FAQ

Q. कमजोरी दूर करने के लिए कौन से पोषक तत्व जरूरी होते हैं?

A. कमजोरी दूर करने के लिए आप प्रोटीन, कैल्शियम, आयरन, कार्बोहाइड्रेट, ऊर्जा और पोटेशियम युक्त पदार्थों का सेवन करें.

Q. कमजोरी दूर करने के लिए कौन से फल खाने चाहिए?

A. कमजोरी दूर करने के लिए आहार में केला, चीकू, कीवी, आम, लीची, सेब, अनार और स्टोबेरी फलों को शामिल कर सकते हैं.

Q. कमजोरी और थकान को दूर करने के लिए कौन सी सब्जियां खानी चाहिए?

A. शरीर में कमजोरी महसूस ना हो इसके लिए आहार में ब्रोकली, हरे पत्तेदार सब्जियां, टमाटर, आलू, पालक, सरसों का साग, मशरूम, सोयाबीन, केल और फलिया आदि सब्जियों को शामिल करें.

Q. कमजोरी दूर करने वाले खाद्य पदार्थ कौन से हैं?

A. थकान या कमजोरी को दूर करने के लिए आहार में अंडा, आंवला, फल, हरी सब्जियां, दूध, दही, पनीर, गिलोय का जूस, तुलसी, जिंसेंग की जड़ और ओट्स आदि का सेवन कर सकते हैं.

और भी जाने  (know more)..

Post a Comment