शुगर में कौन से फल खाने चाहिए - Which fruits should be eaten high in sugar in hindi?

शुगर की बीमारी में दवाइयों के साथ-साथ परहेज का भी ध्यान रखना पड़ता है. अक्सर लोगों को चिंता होती है की शुगर में कौन से फल खाने चाहिए और कौन से नहीं?
शुगर में कौन से फल खाने चाहिए - Which fruits should be eaten high in sugar in hindi?

जब रक्त में ग्लूकोज की मात्रा अधिक हो जाती है तो इस स्थिति को डायबिटीज कहते हैं, डॉक्टरी भाषा में इसे हाइपोग्लाइसीमिया ही कहा जाता है.

यह जानकर आश्चर्य होता है कि दुनिया भर में लोग जंक फूड, मोटापा और बिगड़ती जीवनशैली की वजह से मधुमेह जैसी बीमारी की चपेट में आ रहे हैं और दिन प्रतिदिन मधुमेह से पीड़ित लोगों की संख्या बढ़ती जा रही है.

अक्सर शुगर की बीमारी से ग्रस्त लोग इस बात से पेरशान रहते है कि वह आहार में कौन से फल (sugar fruits) खा सकते हैं और कौन से नहीं?

चूकि फलों में प्राकतिक शुगर होती है इसलिए फलों का सेवन करते समय यह चिंता रहती है कि डायबिटीज के रोगियों के लिए यह सुरक्षित है या नहीं.

वैसे तो फलों का सेवन स्वास्थ्य के लिए बेहद फायदेमंद होता है लेकिन जो लोग डायबिटीज के रोगी होते हैं उन्हें विशेष तौर से अपने खान-पान का ध्यान रखना पड़ता है जिससे उनके शरीर में शुगर की मात्रा ना बढ़े. 

कई विशेषज्ञों का कहना है कि मधुमेह रोगी भी कुछ फलों का सेवन कर सकते हैं जिनका ग्लाइमेक्स इंडेक्स 55 से कम होता है क्योंकि यह शरीर में ब्लड शुगर के स्तर को स्थिर रखते हैं.

इसलिए इस लेख में विस्तार से चर्चा करेंगे की शुगर की बीमारी में कौन से फल खाने चाहिए?

डायबिटीज में कौन से फल खाएं | what fruits to eat in diabetes in hindi?

जो लोग डायबिटीज की बीमारी से पीड़ित होते हैं उन्हें विशेष तौर से अपने खान-पान पर नियंत्रण रखना पड़ता है क्योंकि डायबिटीज की बीमारी में परहेज करना बहुत जरूरी होता है.

अतः इस लेख में केवल उन फलों के बारे में बता रहे हैं जो शुगर के मरीज अपने आहार में शामिल कर सकते हैं.

डायबिटीज मरीजों को चाहिए कि वह आहार में केवल कम मीठे एवं कसैले फलों का सेवन करें और किसी भी प्रकार के फल का सेवन करने से पहले डॉक्टर का परामर्श अवश्य लें.

1. नाशपाती (Pear)

डायबिटीज के मरीजों के लिए नाशपाती फल का सेवन लाभकारी होता है क्योंकि इसका ग्लाइमेक्स इंडेक्स लगभग 55 से कम 36 होता है इसलिए यह शरीर में ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल रखने में मदद करता है.

एक मध्यम नाशपाती में 17 ग्राम शुगर होती है यदि आप इसका पूर्ण रूप से सेवन नहीं करना चाहते हैं तो इसे आप सलाद के रूप में उपयोग कर सकते हैं.

कई अध्ययनों से यह बात साबित हो चुकी है की नाशपाती में (प्रति सौ ग्राम 3.10 ग्राम) डाइटरी फाइबर होता है  जो शरीर से खराब कोलेस्ट्रॉल को बाहर निकालने, पाचन क्रिया को दरुस्त करने और ब्लड शुगर लेवल को नियंत्रित करने में मदद करता है.

2. जामुन (Blackberry)

शुगर में कौन से फल खाने चाहिए? इस सूची में आप जामुन को भी शामिल कर सकते हैं. डायबिटीज के मरीजों के लिए उन फलों का सेवन प्रभावी होता हैं जिनका ग्लाइमेक्स इंडेक्स और शुगर लेवल कम होता है.

जामुन फल, एंटीऑक्सीडेंट, एंटी इंफ्लेमेटरी और एंटीडायबिटिक गुणों से भरपूर है जो शुगर लेवल को 30% तक घटा सकता है.

शरीर में डायबिटीज के स्तर को तेजी से कम करने के लिए जामुन फल बड़ा फायदेमंद है.

जामुन फल का ग्लाइमेक्स इंडेक्स 55 से कम यानी कि 48.1 होता है, इसलिए इसे कम ग्लाइमेक्स इंडेक्स वाले खाद पदार्थों में शामिल किया गया है.

एक रिपोर्ट के अनुसार जामुन की गुठली में 6.2 प्रतिशत, बीज में 79.4% और गूदे में 53.8 प्रतिशत मधुमेह विरोधी गुण पाया जाता है.

3. अमरूद (Guava)

डायबिटीज में अमरूद का सेवन बहुत फायदेमंद होता है क्योंकि अमरुद में पाए जाने वाले एंटी डायबिटिक और एंटी हाइपरलिपिडेमिक गुण डायबिटीज जैसी बीमारी से बचाते हैं.

एक मध्यम आकार के अमरुद में 5 ग्राम शुगर, प्रति 100 ग्राम अमरूद में 5.4 ग्राम डाइटरी फाइबर मौजूद होता है जो डायबिटीज बीमारी से लड़ने में मदद करते हैं.

सर्दियों के मौसम में अमरुद को सुपर फ्रूट कहा जाता है. इसमें कई ऐसे पोषक तत्व मौजूद होते हैं जो पाचन क्रिया को दुरुस्त करने एवं शुगर के स्तर को कंट्रोल करने में मदद करते हैं.

अमरूद का ग्लाइमेक्स इंडेक्स 55 से कम 12 होता है जिसे आप डायबिटीज फ्रूट की लिस्ट में शामिल कर सकते हैं.

4. संतरा (Orange)

जिन लोगों को शुगर की बीमारी होती है उन्हें अक्सर अपने खानपान का विशेष तौर से ध्यान रखना पड़ता है चाहे वह मिठाई हो, फल या फिर सब्जियां.

डायबिटीज की डाइट में आप संतरा फल को भी शामिल कर सकते हैं क्योंकि संतरे का ग्लाइमेक्स इंडेक्स (लगभग 44) कम होता है और फाइबर से भरपूर होते हैं साथ ही इसमें प्राकृतिक शुगर पाई जाती है.

एक मध्यम संतरे का ग्लाइसेमिक लोड 5 होता है जो खून में शुगर के स्तर को बहुत कम बढ़ाता है जिस कारण यह मधुमेह रोगियों के लिए पूर्णता सुरक्षित है.

5. पपीता (Papaya)

डायबिटीज की बीमारी में फलों का चयन करना बहुत ही कठिन होता है, ऐसे में कई लोग यह पूछते हैं कि डायबिटीज में पपीता खाना सुरक्षित है या नहीं तो इसका जवाब है हां.

डायबिटीज की बीमारी में ऐसे फलों का सेवन करना चाहिए जिनका ग्लाइमेक्स इंडेक्स कम, उच्च फाइबर और जिनमें प्राकृतिक शुगर एवं शर्करा का स्तर कम होता हो. (विटामिन ई युक्त फल और सब्जियां)

यदि डायबिटीज की डाइट में पपीता फल का सेवन करते हैं तो इससे रक्त में शर्करा का स्तर बहुत कम बढ़ता है, इंसुलिन के स्तर में भी सुधार आने से शुगर के लेवल को भी कंट्रोल किया जा सकता है.

अध्ययनों के अनुसार एक कप ताजे पपीते में 11 ग्राम चीनी और ग्लाइमेक्स इंडेक्स 60 होता है जिसकी वजह से ब्लड शुगर शरीर में अचानक नहीं बढ़ता है, परंतु पपीते का ग्लाइमेक्स इंडेक्स 55 से अधिक है इसलिए इसका सेवन बहुत ही सीमित मात्रा में करें

पपीते में फ्लेवोनाइड्स तत्व मौजूद होता है जो शरीर में ब्लड शुगर को नियंत्रित करने में मदद करता है.

शुगर में कौन से फल खाने चाहिए - Which fruits should be eaten high in sugar in hindi?

6. सेब (Apple)

वैसे तो हम जानते हैं फलों का सेवन स्वास्थ्य के लिए बेहद लाभदायक होता है, लेकिन डायबिटीज की बीमारी में फलों का चयन करना बड़ा मुश्किल होता है क्योंकि किसी भी गलत फल को खाने से शरीर में ब्लड शुगर का लेवल बढ़ सकता है.

मधुमेह से पीड़ित व्यक्तियों को कम ग्लाइमेक्स इंडेक्स और नेचुरल शुगर वाले फलों का सेवन करना चाहिए, जिसमें आप हरे सेब को शामिल कर सकते हैं.

हरे सेब का ग्लाइमेक्स इंडेक्स कम और फाइबर की मात्रा लाल सेब की तुलना में अधिक होती है. डॉक्टर भी डायबिटीज की बीमारी मे हरे सेब खाने की सलाह देते हैं क्योंकि इसके सेवन से शुगर लेवल मैनेज रहता है.

7. आलू बुखारा (plum)

अगर आप सोच रहे हैं इस शुगर में कौन से फल खाने चाहिए तो इसमें आप आलूबुखारा फल को भी शामिल कर सकते हैं.

इसके सेवन से ब्लड शुगर भी कंट्रोल रहता है तथा इसमें पाए जाने वाले पोषक तत्व डायबिटीज की बीमारी के खतरे को कम करते हैं.

इसमें अच्छी मात्रा में (लगभग प्रति 100 ग्राम आलूबुखारा में 1.40 ग्राम) फाइबर और ग्लाइमेक्स इंडेक्स (55 से कम लगभग 24) होता है जो डायबिटीज को कंट्रोल करने में मदद करते हैं.

गर्मियों के मौसम में आने वाले इस फल को आप डायबिटीज की डाइट में शामिल कर सकते हैं.

8. खट्टे अंगूर (Sour Grapes)

डायबिटीज के आहार में आप खट्टे अंगूरों को भी शामिल कर सकते हैं क्योंकि इनका ग्लाइमेक्स इंडेक्स भी कम होता है (55 से कम लगभग 46).

इसमें पॉलिफिनॉल्स, एंटी डायबिटिक, एंटीऑक्सीडेंट और कई ऐसे पोषक तत्वों से भरपूर होते हैं जो डायबिटीज के विकास को रोकने में मददगार साबित हो सकते हैं.

कई अध्ययनों से यह ज्ञात हुआ है कि अंगूर की ऊपर की परत में पाए जाने वाला तत्व रेसवेरेट्रॉल इंसुलिन की संवेदनशीलता को बढ़ा देता है जिससे व्यक्ति के शरीर में ग्लूकोस की प्रक्रिया में सुधार होता है साथ ही शरीर में शुगर के लेवल को कम कर देता है.

9. चेरी (cherry)

शुगर फ्रूट में आप चेरी फल को भी शामिल कर सकते हैं, क्योंकि इसमें कार्बोहाइड्रेट की मात्रा कम होती है जिससे इसका ग्लाइमेक्स इंडेक्स लो (55 से कम लगभग 22) होता है.

डायबिटीज बीमारी में प्राकृतिक शुगर और फाइबर युक्त फलों को खाने से शरीर में शुगर या ग्लूकोज की मात्रा अचानक से नहीं बढ़ती है साथ ही इसमें फाइबर की अच्छी मात्रा होती है जो पेट साफ करने और डायबिटीज को बढ़ने से रोकने में मदद करते हैं.

कई अध्ययनो से ज्ञात हुआ है कि चेरी में शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट यौगिक मौजूद होते हैं जो उम्र बढ़ने और तंत्रिका संबंधी बीमारियों एवं मधुमेह स्थितियों से लड़ने में सहायक होते हैं.

10. खट्टा अनार (Sour pomegranate)

फलों का सेवन स्वास्थ्य के लिए बेहद लाभदायक होता है लेकिन जहां बात डायबिटीज की होती है वहां फलों को खाने से पहले सोचना पड़ता है.

अनार एक ऐसा फल है जिसके अंदर भरपूर मात्रा में पोषक तत्व मौजूद होते हैं जो डायबिटीज की बीमारी से लड़ने में और शरीर में शुगर के स्तर को कंट्रोल करने में मदद कर सकते हैं.

अनार में शुगर की मात्रा थोड़ी अधिक होती है इसलिए इसका सेवन सीमित या कम मात्रा में ही करें.

11. कीवी फल (Kiwi)

आहार में कीवी फल का सेवन अवश्य करना चाहिए, क्योंकि कीवी न केवल डायबिटीज और भी कई गंभीर बीमारियों के जोखिम को कम करने में लाभप्रद है.

इसमें कई तरह के विटामिन, प्रोटीन, डाइटरी फाइबर, विटामिन ए, सी, के, सोडियम, पोटेशियम, कॉपर, आयरन, बीटा कैरोटीन, जैसे कई महत्वपूर्ण पोषक तत्व मौजूद होते हैं जो शरीर को स्वस्थ रखने के लिए बेहद आवश्यक हैं.

कीवी में प्राकृतिक सुगर होती है जो डायबिटीज के मरीजों को नुकसान नहीं पहुंचाती है, साथ ही इसका ग्लाइमेक्स इंडेक्स लो होता है (55 से कम लगभग 52) जो शरीर में शुगर के स्तर को नहीं बढ़ाता है एवं इसका ग्लाइसीमिक लोड 4 है जो डायबिटीज मरीजो के लिए सुरक्षित है.

डायबिटीज में कौन से फल नहीं खाना चाहिए | Which fruits should not be eaten in diabetes in hindi?

डायबिटीज की बीमारी में खानपान और परहेज का विशेष तौर से ध्यान रखना पड़ता है क्योंकि थोड़ी सी लापरवाही शरीर में शुगर के स्तर को बढ़ा सकती है जो जानलेवा भी हो सकती है.

डायबिटीज की बीमारी में कुछ फलों का सेवन नहीं करना चाहिए जो इस प्रकार हैं.

➭ अनानास.

तरबूज.

आम.

➭ अंगूर.

➭ चीकू.

➭ अनार.

➭ मीठे फल.

➭ सूखे मेवे.

➭ मीठे फलों का जूस.

शुगर में कौन सी सब्जियां खाएं | which vegetables to eat high in sugar in hindi?

डायबिटीज के रोगियों को दवाइयों के साथ-साथ परहेज करने की भी आवश्यकता होती है. उन्हे विशेष रूप से आहार का ध्यान रखना होता है कि वह कौन से फल और सब्जियों का सेवन कर सकते है और कौन से नहीं?

तो आइए जानते हैं डायबिटीज में कौन सी सब्जियां खानी चाहिए?

➭ मटर.

➭ करेला.

ब्रोकली.

➭ हरे पत्ते वाली सब्जियां.

➭ परवल.

➭ खीरा, लौकी, टमाटर.

➭ पालक.

➭ मेथी.

➭ तोरई.

➭ कमल ककड़ी.

➭ ग्वार फली.

➭ मूंग, मसूर, अरहर, सोयाबीन, कुठली.

डायबिटीज की बीमारी में क्या नहीं खाना चाहिए | what not to eat in diabetes in hindi?

डायबिटीज से ग्रस्त रोगियों को अपने खानपान में कुछ खाद्य पदार्थों का सेवन नहीं करना चाहिए जो इस प्रकार हैं.

➭ चीनी मिठाइयां.

➭ गन्ने का रस.

➭ नए चावल.

➭ आलू.

➭ मीठे फल.

➭ विविध फास्ट फूड.

➭ चॉकलेट.

➭ मैदा से बने हुए ब्रेड.

➭ बिस्कुट.

➭ भिंडी.

➭ अरबी.

➭ कचालू.

➭ अंडा.

➭ मछली.

➭ बकरा, सूअर का मांस.

➭ लोबिया.

➭ पनीर.

➭ आलू.

➭ बैगन.

➭ घी.

➭ तली-भुनी हुई चीजें.

आखिरी शब्द | Last word

मधुमेह जैसी बीमारियों में दवाइयों के साथ-साथ खानपान का भी विशेष तौर से ध्यान रखना पड़ता है, क्योंकि थोड़ी सी ही लापरवाही शरीर में शुगर की मात्रा को बढ़ा सकती है.

अक्सर जो लोग डायबिटीज की बीमारी से ग्रस्त होते हैं उन्हें यह चिंता सताती है कि वह आहार में कौन से फलों को खा सकते हैं और कौन से नहीं?

इसलिए इस लेख में कुछ ऐसे फलों के बारे में बताया है जो शुगर के मरीज आहार में शामिल कर सकते हैं, लेकिन विशेष तौर से इस बात का ध्यान रखें कि किसी भी फल का सेवन करने से पहले डॉक्टर्स की सलाह जरूर लें और इनका सेवन सीमित मात्रा में ही करें.

पूछे जाने वाले प्रश्न | FAQ

Q. शुगर में कौन से फल खाने चाहिए?

A. डायबिटीज मरीज नाशपाती, जामुन, अमरूद, संतरा, पपीता, सेब, अनार, चेरी और कीवी फल आदि का सेवन कर सकते हैं लेकिन वह भी सीमित मात्रा में.

Q. डायबिटीज में कौन सी सब्जियां खा सकते हैं?

A. जिन लोगों को डायबिटीज की बीमारी होती है वह अपने आहार में मटर, करेला, ब्रोकली, हरी सब्जियां, परवल, लौकी, टमाटर, पालक, लहसुन, ग्वारफली, मसूर, मूंग की दाल, अरहर की दाल और सोयाबीन आदि का सेवन कर सकते हैं.

Q. शुगर में कौन से फल नहीं खाने चाहिए?

A. शुगर की बीमारी होने पर अनार, चीकू, आम, अनानास, मीठे फल, सूखे मेवे आदि का सेवन नहीं करना चाहिए. 

Q. डायबिटीज की बीमारी में किस तरह के खाद्य पदार्थों का सेवन करना चाहिए?

A. डायबिटीज की बीमारी होने पर आप लो ग्लाइमेक्स इंडेक्स, डाइटरी फाइबर से भरपूर और प्राकृतिक शुगर वाले फलों का सेवन कर सकते हैं. 

Q. शुगर में सेब खा सकते हैं या नहीं?

A. शुगर की बीमारी होने पर आप लाल सेब की बजाय हरे सेब का सेवन करें, क्योंकि हरे सेब में डाइटरी फाइबर की मात्रा अधिक और इसका ग्लाइमेक्स इंडेक्स कम होता है जो शरीर में शुगर की मात्रा को कंट्रोल करता है.

Q. शुगर की बीमारी में क्या नहीं खाना चाहिए?

A. शुगर की बीमारी होने पर आहार में चीनी, मिठाइयां, गन्ने का रस, मक्का, मीठे फल, फास्ट फूड, तेल मसाले युक्त खाद्य पदार्थ, मैदा से बने हुए ब्रेड, बिस्कुट, भिंडी, अरबी, मछली, पनीर, आलू, बैगन और घी आदि के सेवन से बचना चाहिए.

Q. शुगर की बीमारी में किस प्रकार का जूस पीने से फायदा होता है?

A. शुगर की बीमारी होने पर आप करेला, लौकी, खीरा, टमाटर, आंवला, जामुन, प्याज, अदरक, मूली, बथुआ, धनिया, पुदीना एवं नींबू का रस अमृत के समान लाभप्रद होता है.

और भी जाने..

Post a Comment