खून बढ़ाने के लिए कौन सा फल खाना चाहिए | Which fruit should be eaten to increase blood in hindi?

शरीर में खून की कमी होने पर थकान, कमजोरी महसूस होने लगती है. ऐसे में खून बढ़ाने वाले फल खाने चाहिए. खून बढ़ाने वाले फल कौन से है या सूची.
खून बढ़ाने के लिए कौन सा फल खाना चाहिए?

जब शरीर में खून की कमी होने लगती है तो हम कई तरह के उपाय अपनाते हैं, ऐसे में कई लोग यह भी पूछते हैं कि शरीर में खून बढ़ाने वाले फलों के नाम बताइए.

इसलिए इस लेख में विस्तार रूप से खून बढ़ाने वाले फलों के बारे में जानेंगे, जिन्हे आप दैनिक आहार में शामिल कर शरीर में हीमोग्लोबिन की संख्या को बड़ा सकते है.

स्वस्थ शरीर के लिए हिमोग्लोबिन खून के अंदर एक सही मात्रा में होना चाहिए जो निर्धारित करता है कि आपके शरीर में खून की कमी है या नहीं.

एक व्यक्ति मे 13.5-17.5 ग्राम प्रति डेसीलीटर और महिलाओं में 12.0-15.5 ग्राम प्रति डेसीलीटर हीमोग्लोबिन का स्तर सेहतमंद माना जाता है.

शरीर में खून की कमी का होना वैज्ञानिक तौर से हीमोग्लोबिन शब्द से जुड़ा होता है क्योंकि जब हीमोग्लोबिन अर्थात खून की कमी होने लगती है तो शरीर में ऑक्सीजन का प्रभाव कम और एनीमिया जैसी बीमारियों का खतरा बढ़ने लगता है.

अगर आप चाहते हैं कि शरीर में खून की कमी न हो तो आहार में ऐसे फल और सब्जियों को शामिल करें जिनमें आयरन, कॉपर, विटामिन सी, विटामिन ए, विटामिन B12, फोलिक एसिड और विटामिन ई जैसे महत्वपूर्ण पोषक तत्व हो.

तो आइए विस्तार से जानते हैं सबसे ज्यादा खून बढ़ाने वाले फलों के नाम.

खून बढ़ाने वाले फल | blood increase fruits in hindi

शरीर में खून की कमी को तेजी से बढ़ाने के लिए आप आहार में फलों का सेवन कर सकते हैं.

प्राकृतिक रूप से फल कई पौष्टिक तत्वों का भंडार होते हैं जो शरीर में हीमोग्लोबिन के स्तर को बढ़ाने और कई गंभीर बीमारियों को दूर करने में लाभकारी होते हैं.

1. खुबानी (Apricot)

खुबानी फल शरीर में खून बढ़ाने के लिए आवश्यक फल माना जाता है क्योंकि इसमें भरपूर मात्रा में आयरन तत्व मौजूद होता है जो शरीर में रक्त प्रभाव एवं हीमोग्लोबिन की संख्या को बढ़ाने के लिए आवश्यक होता है.

इसके अलावा इसमें कई तरह के फाइटोन्यूट्रिएंट्स, एंटीऑक्सीडेंट, विटामिंस मौजूद होते हैं जो फेफड़ों और मुंह के कैंसर, खराब कोलेस्ट्रॉल को कम करने, हृदय गति और रक्तचाप को नियंत्रित करने में मदद करते हैं.

खुबानी फल विटामिन ए का समृद्ध स्रोत है जो आंखों से संबंधित बीमारियों को कम करने में भी अहम भूमिका निभाते हैं.

प्रति 100 ग्राम खुबानी में 0.39 मिलीग्राम आयरन मौजूद होता है जो दैनिक भत्ते का 5% आहार प्रदान करता है.

2. स्ट्रॉबेरी (Strawberry)

शरीर में खून की कमी को पूरा करने के लिए हमें ऐसे पोषक तत्व से संपूर्ण फलों का सेवन करना चाहिए जिनमे आयरन, विटामिन सी, विटामिन बी 12 और फोलेट तत्व मौजूद हो उन्ही में से एक स्ट्रॉबेरी फल है.

प्रतिदिन स्ट्रॉबेरी फल का सेवन करने से शरीर में लाल रक्त कणिकाओं की संख्या में वृद्धि होती है जिससे शरीर मे हीमोग्लोबिन का स्तर और रक्त प्रभाव भी प्रभावित होता है.

इसके अलावा स्ट्रॉबेरी कब्ज, कैंसर, खराब कोलेस्ट्रॉल के जोखिम को कम करने में भी फायदेमंद है.

प्रति 100 ग्राम स्ट्रॉबेरी में 0.41 मिलीग्राम आयरन होता है जो दैनिक भत्ते का 5% आयरन प्रदान करता है.

3. एवोकाडो (avocado)

शरीर में लाल रक्त कोशिकाओं की वृद्धि के लिए कॉपर और आयरन तत्व की आवश्यकता होती है जो एवोकाडो में भरपूर मात्रा में होते है.

इसके अलावा एवोकाडो विटामिन ए, विटामिन सी, विटामिन के, सोडियम, पोटेशियम, मैग्नीशियम, फास्फोरस, प्रोटीन और डाइटरी फाइबर का भी एक समृद्ध स्रोत है.

एवोकाडो फल के सेवन से न सिर्फ एनीमिया जैसी बीमारी को दूर किया जा सकता है बल्कि यह लाल रक्त कोशिकाओं के उत्पादन और खराब कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने और कब्ज को रोकने में भी फायदेमंद है.

100 ग्राम एवोकाडो में 0.55 मिलीग्राम आयरन और 0.190 मिलीग्राम कॉपर होता है.

4. अनार (Pomegranate)

शरीर में खून की कमी को पूरा करने के लिए अनार सबसे श्रेष्ठ फल माना जाता है.

इसमें आयरन के साथ-साथ कॉपर, कैल्शियम, मैग्नीशियम, फास्फोरस, सोडियम, विटामिन सी, विटामिन ई, विटामिन के और भी कई अन्य पोषक तत्व मौजूद होते हैं जो शरीर को स्वस्थ रखने के लिए बेहद आवश्यक है.

प्रतिदिन एक अनार खाने से या इसका जूस पीने से शरीर में खून की कमी को पूरा किया जा सकता है.

अनार खाने से शरीर में रक्त का प्रभाव बढ़ता है जिससे हृदय संबंधी बीमारियों का खतरा कम होता है साथ ही एनीमिया के लक्षण जैसे कि चक्कर आना, सिर दर्द, थकान और कमजोरी के उपचार में भी बहुत प्रभावी है.

प्रति 100 ग्राम अनार में 0.30 मिलीग्राम आयरन की मात्रा होती है.

5. अंगूर (Grape)

खून बढ़ाने वाले फलों की सूची में आप अंगूर को भी शामिल कर सकते हैं क्योंकि अंगूर में रक्त बढ़ाने वाले तत्व आयरन, फोलिक एसिड, विटामिन सी, विटामिन ए और कॉपर भरपूर मात्रा में होते हैं.

अंगूर में पॉलिफिनॉलिक और रेसवेरेट्रॉल जैसे शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट होते हैं जो तंत्रिका तंत्र संबंधी बीमारियां, वायरल, बाहरी संक्रमण एवं कैंसर के विकार को रोकने में मदद करते हैं.

प्रतिदिन कम से कम एक कटोरी अंगूर का सेवन करें जो एनीमिया जैसी बीमारियों के खतरे को भी कम करने में लाभकारी है.

प्रति 100 ग्राम अंगूर में 0.36 मिलीग्राम आयरन एवं 0.127 मिलीग्राम कॉपर होता है.

6. कीवी (Kiwi)

कीवी फल का सेवन किसी भी गंभीर बीमारी के खतरे को कम करने में कारगार होता है. कई रिपोर्टो से यह ज्ञात हुआ है कि कीवी फल एनीमिया, डेंगू बुखार, हृदय रोग, स्ट्रोक का खतरा कम करने और अन्य विकास संबंधी विकारों को रोकने में मदद करते हैं.

शरीर में खून की कमी को तेजी से पूरा करने के लिए डॉक्टर भी कीवी फल को खाने की सलाह देते हैं.

इसमें भरपूर मात्रा में आयरन होने के साथ-साथ फोलेट, नियासिन, राइबोफ्लेविन, विटामिन सी, विटामिन ई, विटामिन के, कॉपर और कैल्शियम जैसे कई महत्वपूर्ण पोषक तत्व मौजूद होते हैं.

कीवी फल में विटामिन सी की उत्कृष्ट मात्रा मौजूद होती है जो शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को विकसित करके हानिकारक मुक्त कणों को खत्म करने में मदद करते हैं.

प्रति 100 ग्राम कीवी में 0.31 मिलीग्राम आयरन की मात्रा होती है.

खून बढ़ाने के लिए कौन सा फल खाना चाहिए?
खून बढ़ाने वाले फलों के नाम-names of fruits that increase blood.

7. चेरी (cherry)

खून बढ़ाने वाले फलों की लिस्ट में आप चेरी फल को भी शामिल कर सकते हैं.

चेरी फल का सेवन न केवल एनीमिया की बीमारी को दूर करता है बल्कि तंत्रिका संबंधी बीमारियां, उम्र बढ़ने, कैंसर और मधुमेह जैसी स्थितियों से लड़ने में भी मदद मिल सकती है.

चेरी फल एक शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट के रूप में शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को विकसित करके हानिकारक कणों को बाहर निकालने और बाहरी संक्रमण से बचाने के लिए रक्षा कवच की तरह काम करते हैं.

प्रति 100 ग्राम चेरी में 0.36 मिलीग्राम आयरन होता है.

8. अंजीर (Fig)

खून बढ़ाने वाले फलों की सूची में आप अंजीर को शामिल कर सकते हैं क्योंकि इसमें मौजूद आयरन और कॉपर लाल रक्त कोशिकाओं के उत्पादन और हीमोग्लोबिन के स्तर को बढ़ाने में अहम भूमिका निभाते हैं.

इसके अलावा इसमें पोटेशियम, कैल्शियम और जस्सा जैसे उत्कृष्ट खनिज होते हैं जो ऑक्सीकरण के लिए आवश्यक है.

सूखे अंजीर को ड्राइफ्रूट्स की श्रेणी में रखा जाता है, जो शरीर में तेजी से खून बढ़ाने के लिए जाने जाते हैं.

प्रति 100 ग्राम अंजीर में 0.37 मिलीग्राम आयरन और 0.070 मिलीग्राम कॉपर होता है.

9. आम (Mango)

अक्सर लोग हैं पूछते हैं कि खून बढ़ाने वाला फल कौन सा है? तो इसके लिए खून बढ़ाने वाले फलों की सूची में आम को भी शामिल कर सकते हैं.

इसमें बीटा कैरोटीन, अल्फा कैरोटीन, विटामिन ए, फेलावोनोइड्स का उत्कृष्ट स्रोत होता है जो स्वस्थ दृष्टि, फेफड़ों और मुंह के कैंसर से बचाने के लिए जाने जाते हैं.

आम खाने से शरीर में ना केवल खून की कमी पूरी होती है बल्कि हीमोग्लोबिन के स्तर पर भी बढ़ाते हैं जिससे शरीर में ऑक्सीजन का प्रवाह भी बढ़ता है.

प्रति 100 ग्राम आम में 0.16 मिलीग्राम आयरन और 0.111 मिलीग्राम कॉपर होता है.

10. सेब (Apple)

सेब खाने में जितना स्वादिष्ट होता है उतना ही सेहतमंद और फाइटोन्यूट्रिएंट्स, एंटीऑक्सीडेंट तत्वों से संपन्न होता है.

कई अध्ययनों से यह ज्ञात हुआ है कि इसमें कई तरह के आवश्यक पोषक तत्व मौजूद होते हैं जो हर तरह की बीमारी को दूर करने और शरीर के विकास के लिए फायदेमंद होते हैं.

शरीर में तेजी से खून की कमी को पूरा करने या एनीमिया की शिकायत को दूर करने के लिए आहार में प्रतिदिन एक सेब का सेवन अवश्य करें.

इसमें पोटेशियम, फॉस्फोरस और कैल्शियम जैसे खनिज तत्व होते हैं जो तरल पदार्थों का एक महत्वपूर्ण घटक है जिससे हृदय गति और रक्तचाप को नियंत्रित करने में मदद मिलती है.

यह तो आपने सुना ही होगा, "प्रतिदिन एक सेब खाएं और डॉक्टर से दूरी बनाए रखें".

प्रति 100 ग्राम सेब में 0.12 मिलीग्राम आयरन होता है.

11. चुकंदर (Beetroot)

प्रतिदिन चुकंदर के सेवन से ना केवल शरीर में हीमोग्लोबिन की संख्या बढ़ती है बल्कि यह आपके चेहरे की सुंदरता भी बढ़ाता है.

चुकंदर में एंटीऑक्सीडेंट, विटामिन ए, विटामिन सी, आयरन, कैल्शियम, पोटेशियम और मैग्नीशियम जैसे आवश्यक तत्व होते हैं जो शरीर को पूर्ण रूप से स्वस्थ रखने में मदद करते हैं.

शरीर में खून की कमी को तेजी से पूरा करने के लिए आप चुकंदर का जूस या सलाद के रूप में खा सकते हैं.

चुकंदर कैंसर का खतरा कम करने, शरीर में लाल रक्त कोशिकाओं के निर्माण एवं वैज्ञानिक अध्ययनों के अनुसार यह प्रोटेस्ट कैंसर और ब्रेस्ट कैंसर के खतरे को भी कम कर सकता है.

इसलिए आप आहार में सलाद के रूप में चुकंदर का सेवन अवश्य करें.

खून बढ़ाने वाले फलों की सूची एवं इनकी मात्रा – (Blood increase fruits list Per 100 g in hindi)

फल (Fruits) विटामिन सी आयरन कॉपर
खुबानी (Apricot) 10 mg 0.39 mg 0.078 mg
स्ट्रॉबेरी (Strawberry) 58.8 mg 0.41 mg -
एवोकाडो (Avocado) 10 mg 0.55 mg 0.190 mg
अनार (Pomegranate) 10.2 mg 0.30 mg 0.158 mg
अंगूर (Grape) 10.8 mg 0.36 mg 0.127 mg
कीवी फल (Kiwi fruit) 92.7 mg 0.31 mg 0.130 mg
चेरी (cherry) 7 mg 0.36 mg 0.060 mg
अंजीर (Fig) 2 mg 0.37 mg 0.070 mg
आम (Mango) 36.4 mg 0.16 mg 0.111 mg
सेब (Apple) 4.6 mg 0.12 mg -
चुकंदर (Beetroot) 4.9 mg 0.80 mg -

खून बढ़ाने वाली सब्जियां | blood increase vegetables in hindi

जिस तरह हीमोग्लोबिन के स्तर को बढ़ाने और खून की कमी को पूरा करने के लिए फल आवश्यक होते हैं, उसी तरह सब्जियों के भी कई फायदे होते हैं.

तो आइए संक्षेप में जानते हैं रक्त की वृद्धि के लिए कौन सी सब्जियां खानी चाहिए?

➭ केल

ब्रोकली

➭ पालक

➭ हरी फलियां

➭ शतावरी

➭ गाजर

➭ कद्दू के बीज

➭ शलजम

➭ फूलगोभी

➭ शिमला मिर्च

➭ हरी पत्ते दार सब्जियां

➭ शकरकंद.

निष्कर्ष | Conclusion

जब शरीर में हीमोग्लोबिन का स्तर गिरने लगता है तो खून की कमी होने लगती है जिसे एनीमिया रोग से भी जाना जाता है.

शरीर में खून की कमी को पूरा करने के लिए फलों का सेवन बेहद लाभदायक होता है क्योंकि इसमें वह सभी विटामिन और खनिज तत्व मौजूद होते हैं जो लाल रक्त कोशिकाओं के निर्माण और हीमोग्लोबिन के स्तर को बढ़ाने में मदद करते हैं.

इसलिए इस लेख के माध्यम से जाना की खून बढ़ाने के लिए कौन से फल खाने चाहिए? हमेशा स्वस्थ रहने के लिए हर प्रकार के मौसमी फलों का सेवन आहार में जरूर शामिल करें.

पूछे जाने वाले प्रश्न | FAQ

Q. खून बढ़ाने वाले फल कौन से होते हैं?

A. खून बढ़ाने के लिए आप आहार में सेब, अनार, कीवी, एवोकाडो, संतरा, खुबानी, स्टोबेरी, अंगूर, चेरी और आम इन सभी फलों का सेवन कर सकते हैं.

Q. खून बढ़ाने के लिए कौन सी सब्जियां खानी चाहिए?

A. जब शरीर में खून की कमी होने लगती है तो थकान और कमजोरी महसूस होने लगती है जिसके उपचार के लिए आप आहार में केल, ब्रोकली, पालक, हरी फलियां, कद्दू के बीज, गाजर, फूल गोभी, शिमला मिर्च, हरी भाजी और शकरकंद का सेवन कर सकते हैं.

Q. हिमोग्लोबिन क्या होता है?

A. शरीर में हीमोग्लोबिन का स्तर ही रक्त की मात्रा को निर्धारित करता है, जिसका स्तर कम होने से शरीर में खून की कमी होने लगती है और ऑक्सीजन का प्रभाव भी कम हो जाता है.

Q. खून बढ़ाने के लिए किस तरह के पोषक तत्वों की आवश्यकता होती है?

A. शरीर में रक्त के विकास के लिए फोलिक एसिड, विटामिन ए, विटामिन सी, आयरन और कॉपर तत्व जिम्मेदार होते हैं.

और भी पढ़ें (read more)..

Post a Comment