August 31, 2021

सर्दी में खाए जाने वाले 10 फलों के नाम और इनके फायदे | winter fruit names in hindi

सर्दी में खाए जाने वाले 10 फलों के नाम और इनके फायदे | winter fruit names in hindi

जब सर्दियों का मौसम शुरू होने लगता है तो इसका असर स्वास्थ्य पर जरूर पड़ता है क्योंकि शरीर को मौसम के हिसाब से ढलने में थोड़ा समय लग जाता है और इस बीच कई छोटी-छोटी बीमारियों के होने का डर भी रहता है जैसे कि सर्दी, खांसी, बुखार और जुखाम आदि.

ठंड और इन बीमारियों से बचने के लिए शरीर को जितना ऊपर से गर्म रखने की आवश्यकता होती है उतना ही अंदर से शरीर को गर्म रखना जरूरी है.

शरीर को ऊपर से गर्म रखने के लिए ऊनी वस्त्रों का उपयोग कर लेते हैं लेकिन शरीर को अंदर से गर्म कैसे रखें?शरीर को अंदर से गर्म रखने के लिए विशेष तौर से खानपान पर ध्यान देना चाहिए.

हमें आहार में उन सभी खाद्य पदार्थों और फलों (ठंड में खाए जाने वाले फल) का सेवन करना चाहिए जिनकी तासीर गर्म होती है तथा जिसके सेवन से शरीर को अंदरूनी गर्माहट मिले.

इसलिए अपने इस आर्टिकल में विस्तृत रूप से जानेंगे कि सर्दियों में कौन से फल खाना चाहिए, क्यों खाना चाहिए, ठंड में कौन-कौन से फल आते हैं और इसके कुछ नुकसान के बारे में.


    सर्दियों में फल क्यों खाना चाहिए | Why should we eat fruits in winter?

    प्रकृति ने प्रत्येक फल मौसम के हिसाब से प्रदान किए हैं जिनसे शरीर को जरूरी विटामिन और पोषक तत्वों की प्राप्ति होती रहे. डॉक्टर्स भी स्वस्थ रहने और बीमारियों से बचने के लिए मौसमी फलों के खाने की सलाह देते हैं.

    सर्दियों के मौसम (winter fruit names in hindi) में अंदरूनी शक्ति का मजबूत होना बहुत जरूरी है इसलिए आहार के साथ-साथ फलों का सेवन करना भी आवश्यक है.

    सर्दियों के मौसम मे भूख ज्यादा लगती है, जिससे हम ज्यादा भोजन करते हैं जो वजन बढ़ने का कारण हो सकता है.

    इसलिए यदि आप सर्दियों में फलों का सेवन करेंगे तो इनसे जरूरी विटामिंस, मिनरल्स, फाइटोन्यूट्रिएंट्स और एंटीबैक्टीरियल जैसे तत्वों की प्राप्ति होने से रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत होती है तथा भूख कम लगने से वजन भी नियंत्रित कर सकते हैं.

    नियमित रूप से मौसमी फलों के सेवन से आप कई तरह की बीमारियों के जोखिम को कम कर सकते हैं जैसे कि मधुमेह, कैंसर, डायरिया, बुखार, थायराइड, अपच और ब्लड प्रेस्सेर आदि.

    सर्दियों वाले फल | winter fruit in hindi

    हमें अपने आहार में उन फलों का सेवन करना चाहिए जो मौसम के हिसाब से बाजार में उपलब्ध होते हैं क्योंकि मौसमी फलों के सेवन से शरीर को वह जरूरी पोषक तत्व या विटामिन की प्राप्ति होती है जो स्वस्थ शरीर के लिए आवश्यक होते हैं.

    1. कीवी फल (Kiwi fruit)

    सर्दियों के मौसम में अगर फलों की बात की जाए तो कीवी फल एक बहुत ही स्वास्थ्य वर्धक और कई पोषक तत्वों से भरपूर होता है. कीवी फल की तासीर  ठंडी प्रकृति की होती है लेकिन इसे खाने के फायदे अचूक होते हैं.

    कीवी फल के अंदर प्रचुर मात्रा में पोटेशियम, विटामिन C, A, K, एंटीऑक्सीडेंट्स, कॉपर, आयरन और भी कई ऐसे खनिज तत्व पाए जाते हैं जो शरीर की अंदरूनी क्रियाओं को सुचारू रूप से संचालित करने के लिए आवश्यक होते हैं.

    100 ग्राम कीवी फल के अंदर 92.7 मिलीग्राम विटामिन सी पाया जाता है जो प्रतिरोधक क्षमता को विकसित करता है और शरीर में मौजूद हानिकारक कणों को खत्म करने में मदद करता है.

    इसी तरह 100 ग्राम कीवी फल के अंदर 312 मिलीग्राम पोटेशियम पाया जाता है जो शरीर की कोशिकाओं और तरल पदार्थों के लिए एक महत्वपूर्ण घटक होता है तथा हृदय गति और रक्तचाप को नियंत्रित करने में भी मदद करता है.

    कई गंभीर बीमारियों जैसे कि डेंगू और खून की कमी को दूर करने के लिए डॉक्टर कीवी फल को खाने की सलाह भी देते हैं.

    2. पपीता (Papaya)

    पपीता बारहमासी मिलने वाला फल है जो आप गर्मी और सर्दी दोनों में खा सकते हैं. लेकिन पपीता फल की तासीर गर्म होने से यह सर्दियों में अधिक लाभदायक होता है.

    पपीता फल के अंदर कैलोरी की मात्रा बहुत कम होती है, कोलेस्ट्रॉल नहीं होता है और कई खनिज तथा विटामिंस का एक समृद्ध स्रोत होता है.

    पपीता सबसे ज्यादा पाचन क्रिया के लिए फायदेमंद होता है क्योंकि इसके अंदर अच्छी मात्रा में घुलनशील फाइबर तत्व होते हैं जो खाने को पचाने और मल त्यागने में मदद करते हैं जिससे धीरे-धीरे कब्ज की समस्या भी कम होती है.

    100 ग्राम पपीता फल के अंदर 60.9 मिलीग्राम विटामिन सी पाया जाता है जो शरीर के अंदरूनी सफाई करके प्रतिरक्षा को मजबूत करने का काम करता है.

    पपीता के अंदर कैरोटीन तत्व मौजूद होता है जो फेफड़े और मुंह के कैंसर को बचाने के लिए उपयोगी तत्व होता है.

    3. संतरा (Orange)

    शरीर की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने और कई छोटी-छोटी बीमारियां जैसे सर्दी-खांसी जुखाम से बचने के लिए संतरे का सेवन फायदेमंद होता है.

    संतरे के अंदर कई पोषक तत्व पाए जाते हैं जो शरीर को स्वस्थ रखने के लिए आवश्यक होते हैं जैसे कि फाइबर, पेक्टिन, विटामिन सी, एंटीऑक्सीडेंट, एंटीबायोटिक, पोटैशियम, कॉपर, विटामिन ए आदि.

    संतरे के अंदर पेक्टिन नामक तत्व पाया जाता है जो कैंसर पैदा करने वाले रसायनों के जोखिम को कम करने में मदद करता है.

    संतरा एक ऐसा फल है जिसके अंदर विटामिन सी की समृद्ध मात्रा पाई जाने से यह शरीर के कई हानिकारक कणों को बाहर निकालने, प्रतिरोधक क्षमता को विकसित करने, और बाहरी संक्रमण से बचाव के लिए जरूरी तत्व है.

    100 ग्राम संतरे में 48.5 मिलीग्राम विटामिन सी की मात्रा पाई जाती है.

    4. सेब (Apple)

    सेब एक ऐसा जादुई फल है जिसे खाने की सलाह डॉक्टर्स भी देते हैं, कहते हैं कि प्रतिदिन एक सेब खाइए और डॉक्टर से दूरी बनाए रखिए.

    कई विशेषज्ञों का भी यह कहना है कि सेब के अंदर ऐसे प्रभावशाली फाइटोन्यूट्रिएंट्स, एंटी-ऑक्सीडेंट, पेक्टिन, एंटी-इन्फ्लेमेटरी तत्व पाए जाते हैं जो शरीर के विकास के लिए आवश्यक माने जाते हैं.

    सेब के अंदर फाइबर तत्व होने से यह शरीर से खराब कोलेस्ट्रॉल को बाहर निकालने या आंत में खराब कोलेस्ट्रॉल के अवशोषण को रोकने में मदद करता है.

    सर्दियों में अगर बीमारियों से बचना है तो प्रतिदिन एक सेब का सेवन जरूर करें.

    5. केला (banana)

    केला बारहमासी एवं ठंडी तासीर वाला फल है, लेकिन सर्दियों में यदि केला सही समय पर खाएं तो इसके कई फायदे होते हैं. केला एक एनर्जेटिक फल है जिसके सेवन से शरीर को तुरंत ऊर्जा मिलती है.

    100 ग्राम केले के अंदर 89 कैलोरी ऊर्जा पाई जाती है इसके अलावा केले के अंदर फाइबर तत्व मौजूद होता है जो पाचन क्रिया को सुचारू रूप से चलाने के लिए मदद करता है.

    केले में और भी कई तरह के खनिज तत्व पाए जाते हैं जैसे कि मैग्नीशियम जो हड्डियों को मजबूत बनाने के लिए आवश्यक है एवं पोटेशियम (लगभग 358 मिलीग्राम प्रति 100 ग्राम) जो हृदय को स्वस्थ रखने एवं रक्तचाप को नियंत्रित रखने में मदद करता है.

    केले के अंदर विटामिन सी की भी मात्रा पाई जाती है जो शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में मदद करता है सर्दियों में केले का सेवन हमेशा खाना खाने के बाद या दोपहर के समय करें.

    सर्दी में खाए जाने वाले 10 फलों के नाम और इनके फायदे | winter fruit names in hindi
    ठंड में खाए जाने वाले फल | winter fruit

    6. अनार (Pomegranate)

    अनार फल भी सेब की तरह एक जादुई फल होता है जिसे खाने से कई गंभीर रोगों से बचा जा सकता है जैसे कि सांस संबंधी समस्याएं, खून की कमी, डायरिया अल्सर, कैंसर आदि.

    अनार एक ठंडी तासीर वाला फल होता है लेकिन यदि इसका सेवन सही समय और सही मात्रा में किया जाए तो यह सर्दियों में भी बहुत उपयोगी है.

    अनार के अंदर कई ऐसे पोषक तत्व होते हैं जो शरीर को स्वस्थ और विकसित करने में मदद करते हैं जैसे कि फाइबर जो पाचन तंत्र को मजबूत बनाने और मल त्यागने में मदद करता है.

    विटामिन सी (लगभग 10.2 मिलीग्राम प्रति 100 ग्राम) जो शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाकर बाहरी संक्रमण से शरीर का बचाव करता है.

    आयरन जो शरीर में खून की कमी को पूरा करता हैं. पोटेशियम (लगभग 236 मिलीग्राम प्रति 100 ग्राम) तत्व रक्तचाप को नियंत्रित करने और हृदय को स्वस्थ रखने में मदद करते हैं.

    नियमित रूप से अनार का सेवन चेहरे और बालों के लिए भी फायदेमंद होता है.

    7. शकरकंद (Sweet potato)

    शकरकंद एक फल ना होकर कंद होता है जो आलू की तरह की तुलना में कई पोषक तत्वों से समृद्ध होता है. शकरकंद फल की तासीर गर्म होने से यह सर्दियों में खाया जाने वाला फल है जो शरीर को अंदर से गर्म रखने में मदद रखता है.

    शकरकंद फल के अंदर कई तरह के विटामिन और खनिज तत्व मौजूद होते हैं जैसे कि प्रोटीन, डाइटरी फाइबर, एनर्जी, थायमीन, विटामिन ए, विटामिन सी, विटामिन ई, विटामिन के, सोडियम, पोटेशियम, आयरन, कैल्शियम और जिंक आदि.

    शकरकंद के अंदर विटामिन ए (लगभग 14,187 IU प्रति 100 ग्राम) की अच्छी मात्रा पाई जाती है जो एक स्वस्थ दृष्टि, फेफड़ों को स्वस्थ रखने तथा मुंह के कैंसर से बचाने में मदद करता है.

    8. अमरूद (Guava)

    सर्दियों में अमरूद फल खाने से कई प्रकार के लाभ होते मिलते हैं अमरूद खाने में खट्टा और मीठा फल होता है जो हर कोई खाना पसंद करता है.

    अमरूद फल के अंदर एंटी-ऑक्सीडेंट, पॉलिफिनॉलिक योगिक होते हैं जो कैंसर और उम्र बढ़ने की रोकथाम को कम करने में मदद करते हैं. अमरूद का उपयोग कई घरेलू इलाज में भी किया जाता है.

    कई अध्ययनों से यह ज्ञात हुआ है कि अमरूद के अंदर विटामिन सी (लगभग 228 मिलीग्राम प्रति 100 ग्राम) की भरपूर मात्रा पाई जाती है जो प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने, शरीर को डिटॉक्सिफाई करने और फ्री रेडिकल्स पैदा करने वाले कैंसर से बचाव कर सकते है.

    इसके अंदर लाइकोपीन तत्व मौजूद होता है जो प्रोस्टेट कैंसर में भी सुरक्षा प्रदान करता है.

    9. सीताफल (Custard apple) 

    ठंड में आने वाले फलों में शरीफा फल का सेवन बेहद लाभदायक होता है क्योंकि मौसम के हिसाब से जो भी फल आते हैं वह हमेशा एक अच्छी सेहत के लिए जरूरी विटामिन प्रदान करते हैं.

    इसके अंदर पॉलिफिनॉलिक, एंटीऑक्सीडेंट और साइटोटोक्सिक योगिक मौजूद होते हैं जो कैंसर और मलेरिया जैसी बीमारियों को कम करने में सहायक हो सकते हैं.

    शरीफे के अंदर विटामिन सी की अच्छी मात्रा होती है जो प्रतिरोधक क्षमता को विकसित करने में और शरीर से हानिकारक पदार्थों को बाहर निकालने में मदद करते हैं.

    10. सिंघाड़ा फल (water chestnut)

    सर्दियों के मौसम सिंघाड़ा बाजार में देखने को मिलता है, यह एक जलीय फल होता है जो सेहत के लिए पौष्टिकता गुणों से भरपूर होता है.

    सिंघाड़े के अंदर कई तरह के पोषक तत्व होते हैं जैसे कि साइट्रिक एसिड, आयरन, विटामिन ए, सी, फास्फोरस, पोटेशियम, मैग्नीशियम आदि.

    बाजार में सिंघाड़े का आटा भी उपलब्ध होता है जो उपवास में खाने में काम आता है.

    सिंघाड़े का सेवन करने से कई गंभीर बीमारियों से भी बचा जा सकता है जैसे कि थायराइड, गले में दर्द और खराश, कमजोरी, यौन दुर्बलता, बुखार व नकसीर आदि.

    सर्दियों में फल खाने के नुकसान | Loss of fruit in winter in hindi

    किसी भी खाद्य पदार्थ या फलों के सेवन से हमेशा शरीर को फायदा होता है परन्तु किसी भी चीज का अधिक मात्रा में सेवन करने से स्वास्थ्य पर बुरा असर भी पड़ सकता है.

    1. सर्दियों में अधिक मात्रा में फल खाने से पाचन क्रिया संबंधित समस्याएं उत्पन्न हो सकती है.

    2. अधिक मात्रा में फलों के सेवन से कुछ लोगों को एलर्जी की समस्या हो सकती है.

    3. यदि आप किसी बीमारी से गुजर रहे हैं तो आप डॉक्टर्स की सलाह लेने के बाद ही फलों का सेवन करें क्योंकि इनसे मिलने वाले विटामिंस किसी दूसरी बीमारी पर असर कर सकते हैं.

    आखिरी शब्द | last word

    सर्दियों में छोटी-छोटी बीमारियों से बचने के लिए या शरीर को स्वस्थ रखने के लिए आहार में फलों को जरूर शामिल करें क्योंकि फलों से वह सभी विटामिन की प्राप्ति होती है जो शरीर को स्वस्थ रखने और विकसित करने के लिए आवश्यक होते हैं.

    इसलिए इस आर्टिकल के द्वारा जाना की ठंड में कौन-कौन से फल आते हैं, सर्दियों में कौन से फल खाने चाहिए, क्यों खाना चाहिए और कुछ नुकसान के बारे में?

    और भी जाने..

    ▪ किशमिश खाने के फायदे और नुकसान.
    ▪ गिलोय जूस के फायदे और नुकसान.
    ▪ मुलेठी खाने के फायदे और नुकसान.
    ▪ तुलसी खाने के फायदे और नुकसान.

    Share Post

    0 Comments: