January 15, 2021

हिमोग्लोबिन या खून की कमी से क्या होता है, लक्षण और उपाय? | anemia in hindi

हिमोग्लोबिन या खून की कमी से क्या होता है, लक्षण और उपाय?

यदि हमारा स्वास्थ्य सही है तो समझिए कि हम सबसे धनी व्यक्ति हैं क्योंकि वह कहते हैं ना कि स्वास्थ्य ही धन है. 

हम अपने इस लेख में जानेंगे कि खून की कमी (एनीमिया) से क्या होता है? खून की कमी के लक्षण, उपाय और हीमोग्लोबिन बढ़ाने के फल (फ्रूट) के बारे में.

हम अपनी लाइफ स्टाइल में इतने व्यस्त रहते हैं कि हम अपनी सेहत पर पूर्ण रूप से ध्यान नहीं दे पाते हैं. जिसकी वजह से हमें धीरे-धीरे कई रोग होने लगते हैं उनमें से ही एक है शरीर में खून की कमी का होना.

जब हमारे शरीर में खून की कमी होने लगती है तो उसे हम एनीमिया की बीमारी कहते हैं जो कि एक जानलेवा बीमारी भी हो सकती है.


    शरीर में खून की कमी का होना या एनीमिया क्या है? | What is anemia in hindi?

    एनीमिया का अर्थ होता है शरीर में खून की कमी का होना. जब हमारे शरीर में हीमोग्लोबिन की मात्रा कम होने लगती है यानी कि लाल रक्त कोशिकाओं में कमी आने लगती है.

    तो हमारे शरीर में खून की कमी होने लगती है और हम एनीमिया जैसी बीमारियों के शिकार बन जाते हैं. हमारे शरीर के अंदर हीमोग्लोबिन लाल रक्त कोशिकाओं में पाए जाने वाला एक प्रोटीन होता है जो हमारे शरीर में ऑक्सीजन का परिवहन करता है.

    खून के लाल होने के पीछे का कारण भी हीमोग्लोबिन का पिगमेंट होता है. हमारे शरीर में हीमोग्लोबिन एक संतुलित मात्रा में होता है तो हम एनीमिया जैसी बीमारियों से बच सकते है.

    डॉक्टरों के अनुसार वयस्क पुरुष में हीमोग्लोबिन की मात्रा 13.8 से 17.2 g/dl (grams per decilitre) और महिला के अंदर 12.1 से 15.1 g/dl होती है.

    एनीमिया या खून की कमी के लक्षण | Symptoms of anemia in hindi

    जब हमारे शरीर के अंदर किसी भी चीज की कमी या शरीर का कोई अंग खराब होने लगता है तो हमें उसके लक्षण महसूस होने लगते हैं.

    तब हमें इन लक्षणों को नजर अंदाज नहीं करना चाहिए बल्कि तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए, क्योंकि यही लक्षण हमारी बीमारियों के संकेत होते हैं.

    जब हमारे शरीर में खून की कमी होने लगती है तो हमें निम्न लक्षण दिखाई या महसूस होने लगते हैं. इन लक्षणों को हमने अपनी नीचे टेबल में दर्शाया है.

    लक्षण | Symptoms
    1. शरीर में आयरन की कमी का होना
    2. विटामिन B12 की कमी
    3. फोलिक एसिड की कमी होना अधिकतर गर्भवती महिलाओं के अंदर
    4. स्मोकिंग
    5. विटामिन की कमी का होना
    6. आंखों के सामने धीरे-धीरे अंधेरा छाने लगना
    7. चक्कर आना, उल्टी होना, घबराहट होना
    8. अचानक सिर में दर्द होना
    9. दिनभर थकान और कमजोरी महसूस करना
    10. चलते या दौड़ते समय सांस का फूलना
    11. थोड़ा सा काम करते ही थक जाना
    12. आंखों का पीलापन एनीमिया जैसी बीमारी को दर्शाता है
    13. शरीर के अंगों का धीरे-धीरे पीला पड़ना
    14. बालों का अधिक मात्रा में झड़ना
    15. त्वचा का पीलापन और नाखूनों का पीला पड़ना

    खून बढ़ाने के फ्रूट्स | Blood boosting fruits in hindi

    शरीर में खून की कमी को पूरा करने के लिए हमें कौन से फल खाना चाहिए जो हमारे शरीर में हीमोग्लोबिन की वृद्धि करें, थकान और कमजोरी जैसी बीमारियों को भी दूर करें?

    1. टमाटर - एक टमाटर सेवन करने से विटामिन C की आवश्यकता 40% प्राप्त होती है और इसमें विटामिन A, पोटेशियम, लोहा और भी कई पोषक तत्व होते हैं जो हमारे शरीर में खून की कमी को पूरा करने के लिए आवश्यक होते हैं.

    2. अनार - नियमित रूप से अनार का सेवन करने से हमारे शरीर में खून की वृद्धि होती है क्योंकि अनार के अंदर एक अच्छी मात्रा में आयरन और विटामिन C जैसे पोषक तत्व पाए जाते हैं.

    जो एनीमिया जैसी बीमारियों से लड़ने में मदद करते हैं. हर 100 ग्राम अनार में 10.2 mg विटामिन C और 0.30 mg आयरन की मात्रा पाई जाती है.

    3. अंजीर - अंजीर का सेवन भी खून के रक्त विकार को दूर करने के लिए बहुत फायदेमंद होती है.

    अंजीर के अंदर कैल्शियम, विटामिंस, आयरन अच्छी मात्रा में पाए जाते हैं जो रक्त वृद्धि के लिए बहुत उपयोगी होते हैं.

    10 मुनक्के और 5 अंजीर 200 मिलीलीटर दूध में उबालकर खाने से रक्त विकार दूर होता है.


    हिमोग्लोबिन या खून की कमी से क्या होता है, लक्षण और उपाय
    खून की कमी पूरा करने के लिए खाएं यह फल.


    4. गाजर - गाजर का सेवन करने से हमारे शरीर में खून की कमी दूर होती है या गाजर का जूस पीने से शरीर में खून की वृद्धि होती है. शरीर का खून साफ करने के लिए भी गाजर का सेवन एक नेचुरल सोर्स होता है.

    5. पपीता - शरीर में खून की कमी या एनीमिया जैसी बीमारियों में पपीते का सेवन बहुत ही फायदेमंद होता है.

    लगभग 200 ग्राम की मात्रा में प्रतिदिन 20 दिनों तक पपीते का सेवन करने से शरीर में खून की कमी दूर हो जाती है और साथ में पेट की कई बीमारियों के लिए भी पपीता बहुत ही फायदेमंद होता है.

    6. अमरूद - अमरूद का सेवन एनीमिया जैसी बीमारियों मे फायदेमंद होता है, क्योंकि अमरूद के अंदर कई ऐसे पोषक तत्व या विटामिंस पाए जाते हैं.

    जो हमारे शरीर में हीमोग्लोबिन की मात्रा को बढ़ाते हैं, रक्त को शुद्ध करते हैं और खून की कमी को भी पूरा करते हैं.

    7. कीवी फल - जब हमारे शरीर में खून की कमी हो जाती है तो डॉक्टर से भी हमें कीवी फल का सेवन करने की सलाह देते हैं. कीवी फल का सेवन करने से केवल खून की कमी ही पूरी नहीं होती.

    बल्कि यह हमारे इम्यूनिटी सिस्टम को स्ट्रांग करता है, सर्दी-जुखाम, डेंगू बुखार जैसी बीमारियों में भी कीवी फल फायदेमंद होता है.

    कीवी फल के अंदर विटामिन C की भरपूर मात्रा होती है जिससे हमारे शरीर को एक अच्छी मात्रा में एंटी-ऑक्सीडेंट की प्राप्ति होती है.

    8. चुकंदर - जब हमारे शरीर में हीमोग्लोबिन की मात्रा कम हो जाती है तो इससे हम एनीमिया जैसी बीमारियों के शिकार हो जाते हैं.

    ऐसे में यदि हम चुकंदर का सेवन करते हैं तो चुकंदर के अंदर पाए जाने वाले विटामिन C, लोह तत्व खून में हीमोग्लोबिन का निर्माण करते हैं व लाल रक्त कणिकाओं के निर्माण में मदद करते हैं.

    चुकंदर का जूस भी खून की कमी को पूरा करने के लिए फायदेमंद होता हैं.

    9. सेब - सेब एक ऐसा फल होता है जो खाने में तो स्वादिष्ट तो होता ही है लेकिन वह कई औषधीय गुणों से भरपूर होता है.

    वह कहते हैं ना कि यदि हम नियमित एक सेब का सेवन रोज करें तो हम कई समय तक डॉक्टर से दूरी बनाए रख सकते हैं.

    सेब के अंदर भरपूर मात्रा में विटामिन, लोह तत्व जैसे पोषक तत्व पाए जाते हैं जो हमारे हिमोग्लोबिन को भी बढ़ाते हैं हमें ऊर्जावान बनाए रखते हैं.

    10. संतरा - संतरा भी एक ऐसा फल होता है जो हम शरीर में खून बढ़ाने के लिए खा सकते हैं क्योंकि संतरा के अंदर सबसे अधिक मात्रा में विटामिन C, लौह तत्व, कैल्शियम, फास्फोरस जैसे कई पोषक तत्व होते हैं जो हमारे स्वास्थ्य की देखभाल के लिए बहुत ही फायदेमंद होते हैं.

    हर 100 ग्राम संतरे के अंदर 48.5 mg विटामिन C होता है जो कि विटामिन C की एक बहुत ही अच्छी मात्रा है.

    खून बढ़ाने के लिए क्या खाएं? | What to eat to increase blood in hindi?

    शरीर में खून बढ़ाने के लिए किन-किन और चीजों का सेवन कर सकते हैं?

    ऊपर इस लेख में हम आपको बता ही चुके हैं कि हम किन-किन फलों का सेवन कर सकते हैं लेकिन और भी कुछ चीजें ऐसी होती हैं जिनका सेवन हम खून बढ़ाने के लिए कर सकते हैं जैसे कि.

    1. ड्राई फ्रूट्स के अंदर हम बादाम, चिलगोजा, काजू, पिस्ता, अखरोट, मुनक्का दाख और किशमिश आदि.

    2. मूंगफली के अंदर पोटेशियम, कैल्शियम, विटामिन B की अच्छी मात्रा होती है.

    3. नारियल पानी के अंदर एंजाइम, विटामिन C, एंटी-ऑक्सीडेंट्स और भी कई ऐसे पोषक तत्व होते हैं जो हमारे शरीर में हीमोग्लोबिन की मात्रा को बढ़ाते हैं और इम्यूनिटी पावर को बढ़ाते हैं.

    4. सरसों, पालक, हरा धनिया, टमाटर, ब्रोकोली, गोभी, बींस, खीरा, मेथी इन सब को आप अपने आहार में जरूर शामिल करें.

    5. गाजर और सभी प्रकार की दालें अपनी डाइट में जरूर शामिल करें.

    6. गुड़ एक प्राकृतिक औषधि होती है जिसके अंदर एक अच्छी मात्रा में आयरन पाया जाता है जो हमारे शरीर में हीमोग्लोबिन बढ़ाने के लिए मददगार साबित होता है, और यदि आप खाना खाने के बाद थोड़ा सा गुड़ खाते हैं तो इससे हमें खाना पचाने में भी मदद मिलती है.

    हिमोग्लोबिन या खून की कमी से क्या होता है, लक्षण और उपाय

    खून बढ़ाने के आयुर्वेदिक घरेलू उपाय | Home remedies to increase blood in hindi

    शरीर में खून की कमी को पूरा करने के लिए हम दवाई और टॉनिक आदि का सेवन तो करते ही हैं लेकिन यदि हम कुछ घरेलू उपचारों को अपनाएं तो हम अपने शरीर में खून को बढ़ा सकते हैं.

    तो आइए जानते हैं खून बढ़ाने के लिए घरेलू उपचार.

    1. दालचीनी और काला तिल समान मात्रा में लेकर पीस लें इस चूर्ण को आधा कप दूध या पानी के साथ लेने से कमजोरी दूर होती है.

    2. दिन में 3 बार शहद का शरबत बनाकर पीजिए यह खून की कमी को पूरा करता है. 

    3. 10-15 काजू खूब चबा-चबाकर ऊपर से गर्म दूध पीने से खून की कमी पूरी होती है.

    4. थोड़ी मात्रा में रोज आलूबुखारा खाने से शरीर में खून की वृद्धि होती है.

    5. 6-7 चीकू एक साथ खा जाएं इससे आपके शरीर में जान भी आएगी और कमजोरी भी दूर हो जाएगी.

    6. खून की कमी से पीड़ित व्यक्ति के लिए पालक , बथुआ, मेथी या जितनी भी हरी सब्जियां होती हैं वह एक बेहतर औषधि होती है.

    यदि हम इनका नियमित सेवन करते हैं तो इसमें पाए जाने वाला आयरन शरीर में खून की कमी को पूरा करता है. 

    7. गाजर, पालक, टमाटर के रस का मिश्रण रक्त हीनता के रोगियों के लिए लाभकारी होता है.

    8. तिल का प्रयोग करने से शरीर में खून की मात्रा बढ़ती है क्योंकि इसमें लौह तत्व पाया जाता है.

    9. एनीमिया पीड़ित व्यक्ति को चुकंदर का एक कप रस 1 दिन में 3 बार लेना चाहिए.

    10. विटामिन और खून की कमी को दूर करने के लिए एनीमिया पीड़ित व्यक्ति को गाजर जरूर खानी चाहिए.

    11. मूली के रस में समान मात्रा में अनार का रस मिलाकर पीने से खून में हीमोग्लोबिन की मात्रा बढ़ती है जिससे रक्त हीनता दूर होती है.

    12. आंवले के चूर्ण को तिल के चूर्ण में मिलाकर खाने से शरीर की हालत सुधरती है और कमजोरी भी दूर हो जाती है.

    13. अनार का रस एनीमिया के रोगी को पिलाना फायदेमंद होता है.

    14. पके हुए मीठे अमरूद का सेवन करने से शरीर में खून की कमी भी पूरी होती है.

    आखरी शब्द | Last word

    हमने अपने इस पूरे लेख में जाना की खून की कमी (एनीमिया) होने पर हमें कौन से फल खाना चाहिए, खून की कमी के क्या लक्षण होते हैं और हीमोग्लोबिन या एनीमिया बीमारियों के क्या घरेलू उपचार होते हैं?

    अंत में यही कहूंगा कि हम भोजन तो करते ही हैं लेकिन भोजन के साथ हमें कुछ ऐसे फल और घरेलू चीजों का सेवन जरूर करना चाहिए जिनमें पोषक तत्वों की अच्छी मात्रा होती है.

    क्योंकि जैसे गाड़ी के चलने के लिए पेट्रोल की जरूरत होती है वैसे ही शरीर को स्वस्थ रखने के लिए हमें विटामिंस की जरूरत होती है.

    धन्यवाद.

    Share Post

    0 Comments: