दिल (ह्रदय) को स्वस्थ रखने के उपाय और तरीके | Heart care tips in hindi

दिल (ह्रदय) को स्वस्थ रखने के उपाय और तरीके | Heart care tips in hindi

मानव शरीर में बहुत से ऐसे अंग होते हैं जिनकी देखभाल करना बहुत जरूरी है. ईश्वर द्वारा बनाई गई मानव संरचना इस दुनिया के लिए एक तोहफा है.

आज हम अपने इस लेख में जानेंगे कि हृदय को स्वस्थ (healthy heart tips) रखने के उपाय, हृदय को स्वस्थ रखने के लिए क्या खाएं, तरीके और घरेलू उपाय?

आज भी विज्ञान मानव संरचना के गहन अध्ययन में लगा हुआ है. मानव शरीर के अंदर बहुत से ऐसे अंग होते हैं जिनका स्वस्थ होना बहुत जरूरी है जैसे कि ह्रदय, फेफड़े, किडनी, लीवर आदि.

वह कहते हैं ना कि जब तक दिल धड़कता है जब तक हमारी सांसे चलती है दिल धड़कना बंद तो जिंदगी की सांसे बंद. 

जब हम जन्म लेते हैं तो हमें एक स्वस्थ शरीर प्रदान होता है लेकिन जैसे-जैसे हम अपनी जिंदगी जीते जाते हैं तो हम अपनी जीवनशैली को कुछ ऐसे माहौल में ढाल लेते हैं जो हमारे स्वास्थ्य के लिए बिल्कुल अनुकूल नहीं होती है.

यदि हम अपनी दिनचर्या, खाने-पीने पर ध्यान न देना, तनाव, पर्याप्त नींद न लेना इन सब बातों पर ध्यान नहीं देते हैं तो हमें हृदय संबंधित बीमारियां होने लगती है.

जैसे कि दिल का दौरा (Heart Attack), दिल का खराब होना, दिल की धड़कनों का धीमा और तेज होना, आगे हम एक हेल्दी हृदय (Healthy heart tips) रखने के लिए किन चीजों का ध्यान रखना पड़ता है चर्चा करेंगे. 


    हृदय से जुड़ी हुई कुछ रोचक जानकारी | Information related to human heart

    • यदि हम डार्क चॉकलेट का सेवन करते हैं तो इससे हमें हृदय रोग होने का खतरा कम होता है.
    • रात को सोते समय एक गिलास पानी पीकर सोते हैं तो दिल का दौरा यानी कि हार्ट अटैक आने का खतरा कम होता है.
    • हमारा दिल खून का शुद्धिकरण करके शरीर तक पहुंचाने में केवल 15 सेकंड का समय लेता है .
    • महिलाओं का हृदय पुरुषों की तुलना में थोड़ा तेज धड़कता है.
    • यदि हमारे शरीर में किसी भी हिस्से में तनाव महसूस होता है तो इसका सीधा असर हमारे हृदय पर पड़ता है. 
    • हमारा हृदय इतनी तेजी से खून की पंपिंग करता है कि इसको शरीर से बाहर निकाल कर पंप किया जाए तो खून 30 मीटर ऊंचाई तक जाएगा.
    • हृदय का मुख्य काम स्वच्छ खून को शरीर के सारे अंगों तक पहुंचाना है.
    • मनुष्य का दिल 1 मिनट में 72 बार धड़कता है, प्रत्येक दिन में लगभग यह 114000 बार धड़कता है. 
    • जब हृदय हमारे शरीर से अलग हो जाता है तब भी वह कुछ समय तक धड़कता रहता है.
    • हमारा हृदय शरीर के अंदर दाएं या बाएं ना होकर सीने के बिल्कुल बीच में होता है.
    • नवजात शिशु के दिल की धड़कन सबसे तेज होती है और बुढ़ापे में हमारे दिल की धड़कन सबसे धीमी.
    • हमारे दिल का वजन 250 से 300 ग्राम तक होता है.

    हृदय (दिल) को स्वस्थ एवं मजबूत रखने के सरल तरीके | Healthy heart tips in hindi

    स्वस्थ हृदय होने के लिए हम कुछ उपाय अपना सकते हैं जिससे हम अच्छे से अपने स्वास्थ्य की देखभाल कर सकते हैं. 

    1. पर्याप्त नींद है जरूरी.

    यदि हमें एक स्वस्थ जीवन जीना है तो हमें पर्याप्त नींद लेना बहुत जरूरी है. कई वैज्ञानिक शोधों से यह पता चलता है कि हर उम्र के लोगों के लिए पर्याप्त नींद लेना एक अच्छे स्वास्थ्य में अहम भूमिका निभाता है.

    यदि हम अपने जीवन में इतने व्यस्त रहते हैं कि हम ठीक से सोते नहीं हैं तो हमें कई परेशानियां हो सकती हैं जैसे कि थकान, काम के वक्त नींद आना ,बेचैनी, तनाव, दिल की बीमारियां, काम में मन नहीं लगना आदि.

    कई रिसर्च रिपोर्ट से यह पता चला है कि यदि हम 6 से 7 घंटे की पर्याप्त नींद नहीं लेते हैं तो हमें दिल की बीमारियां होने का खतरा बढ़ जाता है जैसे कि हार्टअटैक आना, ब्लड प्रेशर आदि.

    2. लगातार एक जगह कभी ना बैठे.

    हाल ही की रिपोर्टों के अनुसार लगातार एक जगह बैठे रहना हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत ही खतरनाक है, क्योंकि एक ही जगह बैठे रहने से शरीर अस्वस्थ होने लगता है और धीरे-धीरे हमें कई बीमारियां घेर लेती है.

    जैसे कि डायबिटीज, हृदय रोग, मोटापा का बढ़ना, मेटाबॉलिज्म का कम होना, पीठ और कमर दर्द आदि. 

    यदि हम हृदय रोग की बात करें तो लगातार बैठे रहने से हमारे शरीर में रक्त संचार सही रूप से नहीं हो पाता है जिसकी वजह से कोशिकाओं के अंदर कोलेस्ट्रॉल की मात्रा धीरे-धीरे बढ़ने लगती है जो हृदय से संबंधित बीमारियों को बढ़ावा देता है.

    3. धूम्रपान करना बिलकुल छोड़ दें.


    दिल (ह्रदय) को स्वस्थ रखने के उपाय और तरीके | Heart care tips in hindi

    पूरे विश्व में तंबाकू और सिगरेट का सेवन करने से हर साल करीब 19 लाख लोग हृदय रोग से पीड़ित होते हैं और वह मर भी जाते हैं.

    धूम्रपान करना हमारे स्वास्थ्य के लिए बिल्कुल भी अच्छा नहीं होता है क्योंकि इसके अंदर ऐसे विषैले निकोटिन तत्व पाए जाते हैं जो हमारे सांस के द्वारा फेफड़ों और हृदय में इकट्ठा होने लगते हैं.

    जिससे हमें हृदय संबंधी बीमारियां होने का खतरा बढ़ जाता है.

    आप ऐसे समझ लीजिए कि जो लोग धूम्रपान करने वालों के संपर्क में आते हैं उन्हें भी हार्ट अटैक या हृदय संबंधित बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है.

    4. अपने मोटापे या वजन को करें नियंत्रण.

    यदि हम अपने मोटापे को नियंत्रण में नहीं रखते हैं तो इससे हमें आगे चलकर काफी गंभीर बीमारियां हो सकती हैं. सबसे ज्यादा मोटापे से हमारे हृदय को खतरा होता है.

    वर्ल्ड हार्ट फेडरेशन की रिपोर्ट के अनुसार समय से पहले मरने वालों की संख्या में 75% लोग हृदय रोग के कारण होती है. हृदय रोगों में सबसे ज्यादा लोग हार्ट अटैक के द्वारा मर जाते हैं.

    ज्यादा मोटापा होने से हमें और भी कई गंभीर बीमारियां हो सकती हैं जैसे कि डायबिटीज, हाइपरटेंशन की समस्या, सांस लेने में परेशानी, पाचन क्रिया संबंधित समस्याएं और कब्ज आदि.

    हृदय को स्वस्थ कैसे रखें एवं उपाय | Healthy heart tips in hindi

    एक स्वस्थ हृदय पाने के लिए हम अपनी जीवनशैली में ऐसे क्या उपाय करें कि हमें एक स्वस्थ और निरोग जीवन प्राप्त हो.

    1. शराब का सेवन ना करें.

    शराब पीना हमारे स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होता है. यह तो सभी ही जानते हैं क्योंकि अधिक मात्रा में शराब पीने से यह सीधे हमारे लीवर को खराब करती है और हमारे लिवर को पूरी तरह डैमेज कर देती है.

    अधिक मात्रा में शराब पीने से हमारे हृदय की कोशिकाएं खराब हो सकती हैं जिससे हमें हार्ट-अटैक, हाइपरटेंशन जैसी समस्याएं या बीमारियां हो सकती हैं.

    2. तनाव से रहें दूर.

    तनाव या डिप्रेशन एक ऐसी बीमारी है जो अच्छे से अच्छे स्वस्थ व्यक्ति को अपने पकड़ में ले लेती है. लोगों की जिंदगी इतनी उलझनों से भरी हुई होती है कि वह कुछ ना कुछ सोचते रहते हैं.

    जिससे धीरे-धीरे उनके स्वास्थ्य पर असर पड़ने लगता है. तनाव से हमें दिल की बीमारियां तो होने ही लगती हैं जैसे कि दिल की धड़कनों का तेज होना.

    और भी कई बीमारियां होती हैं जैसे कि नींद न आना, ब्लड प्रेशर, पाचन क्रिया पर प्रभाव पड़ना, सिर दर्द, किसी भी काम में मन न लगना और चिड़चिड़ापन आदि.

    इसलिए दिल को स्वस्थ रखने के लिए हमें अपने स्ट्रेस लेवल को कम करना चाहिए और जहां तक संभव हो सके डिप्रेशन का शिकार नहीं बनना चाहिए.

    3. हृदय को स्वस्थ रखने के लिए वर्कआउट जरूर करें.

    यदि हमें एक स्वस्थ हृदय पाना है तो हमें अपने व्यस्त जीवन में थोड़ा सा समय निकाल कर व्यायाम या वर्कआउट जरूर करना चाहिए.

    हर रोज कम से कम आधे घंटे वर्कआउट करने से हमारे शरीर में रक्त का संचार अच्छे से होता है, शरीर ऊर्जावान रहता है, ऑक्सीजन की अधिक मात्रा फेफड़ों में पहुंचती है, ह्रदय अच्छे से रक्त की पंपिंग करता है और फेफड़े भी स्वस्थ रहते हैं.

    कई विशेषज्ञों के अनुसार यदि हम प्रतिदिन 30 मिनट वर्कआउट करते हैं तो हमें 45% हृदय रोग से होने वाली बीमारियों की आशंका लगभग कम हो जाती है.

    दिल को स्वस्थ रखने के लिए हम निम्न प्रकार की एक्सरसाइज कर सकते हैं.

    1. रनिंग (Running)
    2. वाकिंग (walking)
    3. स्विमिंग (swimming)
    4. साइकिलिंग (cycling)
    5. जंपिंग रोप (jumping rope)
    6. योगा (yoga)

    4. रोजाना ब्रश करें.

    यह सुनकर हमें थोड़ा ताज्जुब होता है कि हृदय और दातों के बीच क्या संबंध है लेकिन कई रिपोर्टों से यह ज्ञात हुआ है कि यदि हमारे दांत साफ करते हैं और दातों से संबंधित मसूड़ों की बीमारियां नहीं होती हैं तो इससे हमारा हृदय भी स्वस्थ रहता है.

    स्वस्थ दांतो का होना एक स्वस्थ हृदय के लिए अच्छी भूमिका निभाता है. हम रोजाना सुबह ब्रश तो करते ही हैं लेकिन यदि हम डॉक्टरों की सलाह माने तो हमें रोजाना सुबह और रात में खाना खाने के बाद जरूर ब्रश करना चाहिए.

    इससे हमारे दांत कभी भी खराब नहीं होंगे और हमारे दांत और मसूड़े दोनों स्वस्थ रहेंगे.

    दिल (ह्रदय) को स्वस्थ रखने के उपाय और तरीके | Heart care tips in hindi


    5. ब्लड प्रेशर और कोलेस्ट्रॉल की जांच.

    हाई ब्लड प्रेशर और कोलेस्ट्रॉल का बढ़ना हमारे दिल के लिए बिल्कुल भी अच्छा नहीं होता है. जब हमारे शरीर में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा बढ़ जाती है तो इससे हार्टअटैक, हाइपरटेंशन जैसी बीमारियां होने का खतरा बहुत अधिक होता है.

    जब शरीर में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा बढ़ जाती है तो शरीर में निम्न लक्षण दिखते हैं जैसे कि स्किन का पीला होना, सीने में दर्द, तलवों में दर्द होना, कमजोरी महसूस होना, दिल की धड़कन का सही रूप से ना चलना.

    1. शरीर में टोटल कोलेस्ट्रॉल की मात्रा 200 mg/dl से कम होना चाहिए.

    2. एलडीएल (LDL) यानी कि बैड कोलेस्ट्रॉल 100 mg/dl से कम.

    3. एचडीएल (HDL) यानी गुड कोलेस्ट्रॉल 60 mg/dl से ज्यादा होना चाहिए.

    इसलिए स्वस्थ हृदय के लिए हमें ब्लड प्रेशर और कोलेस्ट्रॉल की जांच समय-समय पर कराते रहना चाहिए.

    6. मधुमेह (Diabetes) बीमारी का रखें ध्यान.

    यदि हम डायबिटीज की बीमारी के शिकार हैं तो हमें हृदय से संबंधित बीमारियां भी हो सकती हैं. डायबिटीज और दिल की बीमारी एक दूसरे से संबंधित होती हैं.

    क्योंकि अधिक लंबे समय तक डायबिटीज होने से दिल को नियंत्रित करने वाली कोशिकाओं को नुकसान पहुंचने लगता है और हम हार्ट अटैक या हाइपरटेंशन जैसी बीमारियों के शिकार बन जाते हैं.

    हृदय को स्वस्थ रखने के लिए क्या खाना चाहिए | Healthy food for heart in hindi?

    स्वस्थ रहने का मूल आधार होता है खानपान यदि हम अपने खाने पीने पर ध्यान देते हैं तो हम कई गंभीर बीमारियों से बच सकते हैं. तो आइए जानते हैं हेल्दी हार्ट (Healthy heart) के लिए हमें क्या-क्या खाना चाहिए?

    1. हृदय को स्वस्थ रखने के लिए अपनाएं फाइबर युक्त भोजन.

    यदि हम फाइबर युक्त भोजन का सेवन करते हैं तो हमारी पाचन क्रिया भी दुरुस्त रहती हैं और हम डायबिटीज तथा हृदय से संबंधित बीमारियों से ही बच सकते हैं.

    कई विशेषज्ञों का कहना है कि जब शरीर में फाइबर की कमी हो जाती है दिल की बीमारी और डायबिटीज की बीमारी का खतरा बढ़ जाता है.

    हमें अपने आहार में फाइबर युक्त भोजन उपयोग करना चाहिए जैसे कि

    1. सेब                        5. नाशपाती

    2. सलाद                    6. नट्स और सीड्स

    3. दाल                       7. तरबूज

    4. अनार                     8. पपीता

    2. दिल को स्वस्थ रखने के लिए ब्रोकोली का सेवन.

    कई अध्ययनों से पता चला है कि ब्रोकोली का नियमित सेवन से हृदय संबंधित बीमारियों का खतरा कम होता है. 

    ऐसा इसलिए है क्योंकि ब्रोकोली में बहुत से ऐसे विटामिन और खनिज तत्व होते हैं जो शरीर में खराब कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को कम करने में मदद करते हैं और दिल को स्वस्थ बनाते हैं.

    3. दिल के लिए चिया बीज का सेवन.

    चिया बीज के अंदर अल्फा लिनोलेनिक एसिड (alpha-linolenic acid) यानी कि ओमेगा 3 फैटी एसिड (omega 3) की मात्रा अधिक पाई जाती है.

    और जैसा कि हम जानते हैं दिल को स्वस्थ रखने के लिए ओमेगा 3 फैटी एसिड वाले पदार्थ बहुत लाभकारी होते हैं. 

    इससे हमारे शरीर में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा नियंत्रित रहती है और यह रक्तचाप को कम करने में भी सहायक होता है.

    4. हेल्दी हार्ट के लिए रेड वाइन का सेवन.

    जैसा कि हम जानते हैं कि शराब पीना शरीर के लिए बहुत नुकसानदायक होती है लेकिन वह तब होता है जब हम इसका अधिक मात्रा में सेवन करते हैं.

    कई अध्ययनों में यह बताया गया है कि रेड वाइन का सेवन यदि हम एक सही मात्रा में करते हैं तो यह हमारे हृदय के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है.

    क्योंकि इसके अंदर मौजूद एंटीऑक्सीडेंट  तत्व कोशिकाओं की मरम्मत करते हैं, खराब कोलेस्ट्रॉल को दूर करते हैं और शरीर में रक्त की मात्रा एवं रक्त प्लेट की संख्या को भी बढ़ाते हैं.

    5. स्वस्थ हृदय के लिए अखरोट जरूर खाएं.

    यदि हम अपनी डाइट में अखरोट का सेवन करते हैं तो यह हमारे हृदय के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है. क्योंकि अखरोट के अंदर ऐसे कई विटामिन पाए जाते हैं जो हमारे हृदय की देखभाल के लिए सहायक होते हैं.

    अखरोट के सेवन से शरीर में ब्लड सुगर कंट्रोल रहता है, ब्रेन हेल्थ के लिए अखरोट अच्छा होता है, वेट कम करने के लिए और खराब कोलेस्ट्रॉल को कम करने मे भी फायदेमंद होता हैं.

    6. दिल के लिए डार्क चॉकलेट का सेवन.

    डार्क चॉकलेट खाने में टेस्टी तो होती ही है लेकिन यह हमारे दिल के लिए और कई बीमारियों के लिए फायदेमंद होती है.

    कई शोधों से यह ज्ञात हुआ है कि डार्क चॉकलेट से शरीर के अंदर ब्लड क्लॉट्स जमने से रोकने में मदद मिलती है, शरीर में रक्त संचार अच्छे से होता है, मस्तिष्क के लिए फायदेमंद और बीपी कम करने में सहायक है.

    दिल (ह्रदय) को स्वस्थ रखने के उपाय और तरीके | Heart care tips in hindi

    दिल की धड़कन तेज और धीमा होने के घरेलू उपाय | Home remedies in hindi

    हृदय एक निश्चित लय में धड़कता है लेकिन कभी-कभी हृदय की धड़कन तेजी से बढ़ जाती है और कम हो जाती हैं. तो आइए जानते हैं हृदय की धड़कन को नार्मल करने के कुछ घरेलू उपायों के बारे में.

    1. पिस्ता हृदय की धड़कन को कम करने में मदद करता है.

    2. जिनके हृदय की धड़कन बढ़ गई हो वह एक प्याज का सेवन रोज खाना खाते समय जरूर करें. इससे धड़कन सामान्य हो जाएगी और हृदय को शक्ति मिलेगी.

    3. अंगूर खाने से भी घबराहट दूर हो जाती हैं.

    4. यदि दिल बहुत तेज धड़कता है तो गुलाब के चूर्ण में बराबर मिश्री मिला लें. एक-एक चम्मच गाय के दूध के साथ सेवन करें.

    5. अनार की कोमल पत्तों को पीसकर सुबह और शाम पीने से दिल की धड़कन कम होती है.

    6. गर्मी के मौसम में कुछ लोगों को घबराहट और बेचैनी महसूस होती है जिससे दिल की धड़कन तेज हो जाती है ऐसे में गुलाब की पतियों को सुबह-शाम चबाकर खाने से आराम मिलता है.

    7. बेलपत्र का 10 ग्राम रस निकालकर गाय के घी में मिलाकर पी जाएं एक बार में पूरा आराम ना आए तो 2 घंटे बाद एक और मात्रा ले.

    8. पपीता के अंदर बहुत से प्रोटीन पाए जाते हैं जो शीघ्र पचाने की क्षमता रखते हैं, दिल के मरीजों के लिए पपीता खाना बहुत ही लाभप्रद होता है.

    9. दिल की धड़कन में लाभ के लिए अदरक को घी मे तल कर खाएं. 

    10. आंवला का चूर्ण गाय के दूध के साथ सेवन करने से हृदय रोग में फायदा होता है.

    11. सुबह का खाना खाने के बाद एक अनार खाने से हृदय रोग नहीं होता है.

    परामर्श | Consultation

    हमने अपने इस पूरे लेख में यह जाना कि हृदय को स्वस्थ रखने के लिए हमें क्या उपाय करने चाहिए, तरीके, घरेलू उपाय और हमें क्या खाना चाहिए?

    आज के समय में हार्टअटैक आना और हाई ब्लड प्रेशर जैसी गंभीर बीमारियां आम हो गई हैं. पहले हमें एक निश्चित आयु में यह बीमारियां देखने को मिलती थी लेकिन अब किसी भी आयु के लोगों को यह बीमारियां होने लगी हैं.

    इन सब बीमारियों से बचने के लिए केवल और केवल यदि हम अपने खाने-पीने और अपनी लाइफ स्टाइल पर थोड़ा सा ध्यान देते हैं तो कहीं ना कहीं हम इन बीमारियों से बच सकते हैं.

    सिर्फ हमें इतना करना है कि हमें साफ-सुथरा खाना खाना है, हर रोज कम से कम आधे घंटे व्यायाम करना है, गंदी आदतों को छोड़ देना है और सबसे बड़ी बात हमेशा खुश रहना है. फिर देखिए आपकी जिंदगी कितनी सरल और खुशियों से भरी होती है.

    धन्यवाद.

    Share Post

    0 Comments: