केला खाने के फायदे, उपयोग और नुकसान | Benefits and side effects of banana in hindi

केला खाने के फायदे, उपयोग और नुकसान

केला एक बहुत ही स्वास्थ्य वर्धक फल है, खाने में केला स्वादिष्ट तो लगता ही है लेकिन यह हमारे स्वास्थ्य के लिए किसी औषधि से कम नहीं.

हम अपने इस पूरे लेख में जानेंगे कि केले खाने से हमारी सेहत को क्या फायदे, नुकसान, उपयोग, केले खाने का सही समय, दूध और केला साथ में खाना चाहिए या नहीं और केले की तासीर ठंडी होती है या गर्म.

अगर हम केले की तुलना दूसरे फलों से करते हैं तो यह सस्ता,पोषक तत्वों से भरपूर और पूरे साल भर मिलने वाला फल है.

यदि हम प्रतिदिन एक सेब का सेवन करते हैं तो हम कई बीमारियों से बचे रहते हैं, उसी तरह केले का सेवन करके भी हम कई बीमारियों से सुरक्षित रह सकते हैं. 

केला एक ऐसा फल है जिसे हम खाना खाने के बाद खाना पचाने के लिए और सुबह नाश्ते के रूप में भी खा सकते हैं. 

केले के अंदर कई तरह के पोषक तत्व होते हैं जैसे कि ऊर्जा (Energy), प्रोटीन, डाइटरी फाइबर,नियासिन,विटामिन A, विटामिन C, विटामिन E, विटामिन K, सोडियम, पोटेशियम, कैल्शियम, कॉपर और आयरन आदि. 

आइए आगे पढ़ते हैं केले के बारे में कुछ रोचक तथ्य और इसके सेहतमंद फायदे. 



    केले के बारे में कुछ रोचक जानकारियां | Information about banana in hindi

    • केले की तासीर ठंडी होती है.
    • केले की एक पंक्ति में 3 से 20 केले होते है.
    • संयुक्त राष्ट्रीय खाद्य और कृषि संगठन के अनुसार केले की लगभग 1000 प्रजातियां होती हैं. 
    • केले में लगभग 75% पानी होता है. 
    • केले का उत्पादन एशिया, अफ्रीका और अमेरिका के अन्य उष्णकटिबंधीय क्षेत्रों और ऑस्ट्रेलिया में भी किया जाता है.
    • विश्व में केले का उत्पादन सबसे ज्यादा भारत में होता है. 
    • भारत के तमिलनाडु राज्य में सबसे ज्यादा केले का उत्पादन होता है. 
    • केले का वैज्ञानिक नाम मूसा सेपिटनम है. इसका मतलब है “बुद्धिमान व्यक्ति का फल”
    • यदि हम 2 केले का सेवन करते हैं तो इससे हमें 90 मिनट काम करने की ऊर्जा प्राप्त होती है.
    • केला हिंदू धर्म का बहुत ही पवित्र फल माना जाता है और हिंदू धर्म में केले के वृक्ष की पूजा भी की जाती है. 
    • 100g केले के अंदर 2.6g फाइबर की मात्रा पाई जाती है जो हमारी पाचन क्रिया को बेहतर बनाता है.
    • केला एक ऐसा एकमात्र फल है जिसके अंदर बीज नहीं पाया जाता है.


    केले के सेहतमंद फायदे या लाभ | Benefits of banana in hindi

    आइए जानते हैं केले का सेवन करने से हमारे शरीर को क्या फायदे होते हैं कैसे हम कई गंभीर बीमारियों से अपने स्वास्थ्य की देखभाल कर सकते हैं? तो आइए पढ़ते हैं.

    1. ऊर्जावान बनाए रखने में | Energetic

    यदि हम अपनी दिनचर्या के काम को करने में इतने व्यस्त रहते हैं कि हम अपने सेहत की देखभाल नहीं कर पाते हैं, तो हमें ज्यादा कुछ नहीं करना है आप सुबह नाश्ते के समय 2 केलो का सेवन या खाना खाने के बाद 2-3 केलो का सेवन कर सकते हैं. 

    जिससे आपका खाना भी पच जाएगा और आप सुबह से शाम तक अपने आप को ऊर्जावान महसूस करेंगे. क्योंकि केले के अंदर सबसे ज्यादा ऊर्जा, कार्बोहाइड्रेट, विटामिन, ग्लूकोज होता है.

    हर 100 ग्राम केले के अंदर 89 कैलोरी होती है.

    2. केले का फायदा आँखों के लिए | Benefits For Eyes

    केला खाने के बहुत फायदे होते हैं उनमें से एक हमारी आंखों के लिए भी है, यदि हम नियमित केले का सेवन करते हैं तो इसमें पाए जाने वाला विटामिन A हमारी आंखों के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है और आंखों की कई रोग भी धीरे-धीरे कम होने लगते हैं. 

    इसलिए यदि हम अपनी आंखों को स्वस्थ रखना चाहते हैं तो हमें दिन में कम से कम 2 या 3 केलो का सेवन जरूर करना चाहिए. 

    हर 100 ग्राम केले के अंदर 64 IU (International unit) विटामिन A पाया जाता है जो कि हमारी आंखों के लिए बहुत ही फायदेमंद है. 

    3. केला करे खून की कमी पूरी | anemia

    केला एक ऐसा फल है जो दूसरों फलों से कम नहीं क्योंकि केला खाने के कितने फायदे होते हैं? हम सोच भी नहीं सकते. जैसे कि यदि आपको खून की कमी या आप एनीमिया जैसी बीमारियों से ग्रस्त हैं तो आप केले का सेवन कर सकते हैं.

    केले के अंदर लोह तत्व विटामिन, आयरन की मात्रा पाई जाती है जो आपके अंदर खून की कमी को पूरा करता है और छोटी-छोटी बीमारी जैसे थकान, चक्कर आना, सिर दर्द, सांस की तकलीफ आदि इन सब में भी फायदा होता है. 

    4. रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में केले के फायदे | Increasing immunity

    यदि आप अपने शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत रखना चाहते हैं, आप चाहते हैं कि हम बार-बार बीमार ना पड़े तो हमें कुछ ऐसे फलों का भी सेवन करना चाहिए जो हमारे शरीर में विटामिंस, खनिज तत्व, एंटी-ऑक्सीडेंट गुणों की पूर्ति करते रहें. 

    हम अपनी इस पोस्ट में केले फल की बात कर रहे हैं जो कि अपने आप में एक बहुत ही अच्छा पौष्टिक फल है. इसके नियमित सेवन से हमें विटामिन A, विटामिन C, एंटी-ऑक्सीडेंट, एंटी-इन्फ्लेमेटरी गुणों की प्राप्ति होती है.

    जो हमारे अंदर के सिस्टम को मजबूत बनाते हैं और बाहरी संक्रमण से लड़ने की शक्ति प्रदान करते हैं.

    5. मोटापा कम करने के लिए केले के फायदे | Reduce obesity

    वजन या मोटापा घटाने के लिए केला एक बहुत ही फायदेमंद फल है, क्योंकि केले के अंदर भरपूर मात्रा में फाइबर और ऊर्जा होती है.

    जिसके सेवन से हमें काफी समय तक भूख महसूस नहीं होती है, जिससे हम अधिक मात्रा में भोजन का सेवन नहीं करते हैं और हमारी पाचन क्रिया भी दुरुस्त रहती है.

    केला खाने के फायदे, उपयोग और नुकसान
    केला खाने के 9 सेहतमंद फायदे

    6. पाचन क्रिया में केले के फायदे | Digestion

    यदि हम केले का सेवन करते हैं तो इससे शरीर की पाचन क्रिया दुरुस्त रहती है. क्योंकि केले के अंदर एक अच्छी मात्रा में फाइबर पाया जाता है.

    यदि हम फाइबर युक्त भोजन ग्रहण करते हैं तो ऐसे पदार्थ हमारी आंतो में चिपकते नहीं है, जिससे हमें मल त्यागने में परेशानियों का सामना नहीं करना पड़ता है और हमारी पाचन संबंधी समस्याएं भी दूर रहती हैं. 

    फाइबर युक्त भोजन करने से हम बवासीर जैसी बीमारियों से भी बच सकते हैं.

    7. हड्डियों की मजबूती के लिए | Bones

    केले का सेवन हमारी हड्डियों की मजबूती के लिए भी फायदेमंद होता है. यदि हमें अपनी हड्डियों की देखभाल करनी है तो हमें विटामिन D पोषक तत्व की प्राप्ति होना अनिवार्य होता है.

    केले के अंदर कैल्शियम, मैग्निशियम जैसे पोषक तत्व पाए जाते हैं जो हमारी हड्डियों की विकास के लिए जरूरी होते हैं.

    8. हृदय के लिए केले के फायदे | heart

    केला एक ऐसा फल है जो हमारे शरीर के कई अंगों की देखभाल करने में सक्षम है. केला खाना हमारे हृदय के लिए भी फायदेमंद होता है, क्योंकि केला खाने से हमें पोटेशियम तत्व की प्राप्ति होती है जो हमारे शरीर के इलेक्ट्रोलाइट संतुलन को बनाए रखने में मदद करता है.

    पोटेशियम हमारे हृदय, मस्तिष्क और मांसपेशियों के कामकाज के लिए भी आवश्यक होता है. इसलिए हमारे शरीर को पोटेशियम तत्व की प्राप्ति होना भी जरूरी है.

    भरपूर मात्रा में पोटेशियम युक्त पदार्थों का सेवन करने से हम हृदय संबंधित बीमारी जैसे हार्टअटैक, हाइपरटेंशन और मांसपेशियों में दर्द जैसी समस्याओं से बचे रहते हैं.

    9. स्वस्थ मस्तिष्क | Healthy brain

    यदि हम अपने मस्तिष्क को स्वस्थ रखना चाहते हैं तो हमें केले का सेवन जरूर करना चाहिए क्योंकि इसके अंदर विटामिन B6 और मैग्नीशियम जैसे तत्व होते हैं.

    जो हमारे मस्तिष्क की कार्य प्रणाली को मजबूत बनाते हैं. विटामिन B6 जैसे तत्व शारीरिक और मानसिक कार्यों के लिए बहुत जरूरी होते हैं.

    केला खाने के फायदे, उपयोग और नुकसान

    केले के घरेलू उपाय | Banana home remedy in hindi

    स्वस्थ रहने के लिए और बहुत सी बीमारियों से बचने के लिए हम फलों का सेवन तो करते ही हैं लेकिन यदि हम  फलों को घरेलू उपायों की तरह उपयोग करें तो यह और भी फायदेमंद होता है.

    तो आइए जानते हैं केले के उपयोगों के बारे में.

    सूजन - सभी प्रकार की सूजन को कम करने के लिए केला खाना लाभकारी होता है.

    चोट लग जाना – चोट या रगड़ लगने पर केले के छिलके को उस स्थान पर बांधने से सूजन नहीं बढ़ती है.

    गैस्ट्रिक अल्सर - गैस्ट्रिक अल्सर के मरीजों को दूध और केला एक साथ खाना चाहिए. केला और दूध का सेवन करने से पेट के अल्सर में फायदा होता है.

    हृदय का दर्द -  2 केले 15 ग्राम शहद के साथ मिलाकर खाने से दिल में होने वाला दर्द ठीक हो जाता है.

    मिट्टी खाना - अगर बच्चों को मिट्टी खाने की आदत हो तो उन्हें एक पका हुआ केला शहद में मिलाकर खिलाना चाहिए इनसे उनकी मिट्टी खाने की आदत छूट जाती है. 

    दाद खाज - केले के गूदे को नींबू के रस में पीस लें और दाद, खाज या खुजली पर लगाएं इससे हमें दाद खाज खुजली में आराम मिलता है.

    पेट का दर्द - किसी भी प्रकार की पेट के दर्द में केला खाना लाभकारी होता है. दस्त, पेट का दर्द, पाचन क्रिया के सुधार में और कब्ज जैसी बीमारियों में केला खाना लाभकारी होता है. 

    दस्त – 2 केले लगभग 100 ग्राम दही के साथ कुछ दिन तक खाने से दस्त में आराम मिलता है. 

    मुंह के छाले - जीभ पर छाले होने पर एक केला गाय के दही के साथ सुबह-शाम सेवन करने से लाभ होता है.

    नाक से खून आना - एक गिलास दूध में चीनी मिलाकर दो केले के साथ प्रतिदिन 10 दिनों तक खाने से नाक से खून आना बंद हो जाता है.

    पेशाब का रुक जाना - केले की जड़ के बीच के भाग को पीसकर पेट की नाभि के नीचे तक लेप लगाने से बंद पेशाब खुलकर आने लगती है. 

    पेशाब का बार बार आना1. प्रतिदिन खाना खाने के बाद दो पके केले खाने से पेशाब का बार बार आना बंद हो जाता है. 

    2. पका हुआ दो केले एक चम्मच आंवला का रस और 10 ग्राम मिश्री मिलाकर 4 से 5 दिनों तक पीने से बार बार पेशाब आना ठीक हो जाता है. 

    उच्च रक्तचाप - केले में पोटेशियम की अधिकता के कारण यह उच्च रक्तचाप के रोगियों के लिए विशेष लाभकारी होता है. केला खाने से हाई ब्लड प्रेशर सामान्य बना रहता है. 

    प्रतिदिन एक पका केला खाली पेट खाने और ऊपर से इलायची के 2 दाने चबाने से हाई ब्लड प्रेशर सामान्य बना रहता है. 

    हिचकी - 3 ग्राम केले की जड़ को पानी के साथ घिसकर उसमें चीनी और मिश्री मिलाकर सेवन करने से हिचकी नहीं आती है. 

    जलन - केले और कमल के पत्तों पर सोने से शरीर की जलन शांत होती है. 

    कमजोरी - खाना खाने के बाद 3 महीने तक केला खाने से कमजोरी दूर हो जाती है. 

    वीर्य रोग - एक पका केला 5 ग्राम घी के साथ सुबह-शाम 1 सप्ताह तक खाने से धातु के रोग खत्म हो जाते हैं. 

    काली खांसी – केले के सूखे पत्तों को जलाकर राख बना लें. इस राख को लगभग 6 मिलीग्राम शहद में मिलाकर रोगी को दिन में तीन से चार बार देने से काली खांसी दूर होती है. 

    गंजापन - केले के गूदे को नींबू के रस के साथ पीसकर सिर पर लगाने से गंजेपन का रोग दूर होता है. 

    रतौंधी - केले के पत्तों का रस आंखों में लगाने से रतौंधी रोग दूर होने की संभावना होती है. 

    उल्टी - 5 ग्राम केले के रस में शहद मिलाकर पीने से उल्टी में लाभ होता है. 

    पेचिश - 1. केले को मसल कर उसमें जीरा और नमक मिलाकर खाने से पेचिश का रोग ठीक होता है. 

    2. केले को दही में मिलाकर खाने से पेचिश का रोग दूर होता है. 

    3. पेचिश के रोगी को केले की रोटी बनाकर खाना खिलाना चाहिए इससे दस्त में खून का आना बंद होता है. 

    घाव - केले के छिलके को पीसकर घाव पर लगाने से घाव ठीक होता है. 

    आंतों का घाव - केले का रस 20 से 40 ग्राम और कालीमिर्च मिलाकर सुबह-शाम सेवन करने से आमाशय की जलन व घाव समाप्त होती है.

    जी मचलना - केले पर चीनी और इलायची डालकर खाने से खट्टी डकार आना बंद होती हैं. यदि पेट में जलन शुरू होकर गले तक फैलती है तो 2 केले, चीनी व इलायची मिलाकर खाना चाहिए. 

    कफ - गले में कफ अधिक बनने पर केला और शहतूत खाना लाभदायक होता है.

    मधुमेह - मधुमेह के रोग में कच्चे केले के टुकड़े करके उसे सुखा लें और उसे कूटकर चूर्ण बना कर बोतल में भर लें. यह चूर्ण एक चम्मच गाय के दूध के साथ सेवन करने से मधुमेह में लाभ होता है. 

    मधुमेह रोगी को बार-बार पेशाब लगती है तो उसे केला खाना बहुत फायदेमंद होता है. 

    पित्त की पथरी - केले के तने में थोड़ी सी मिश्री मिलाकर पीने से कुछ दिनों में पथरी निकल जाती है.

    पेट का दर्द - केले के रस में काला नमक मिलाकर खाने से पेट का दर्द तुरंत बंद हो जाता है. 

    पेट के कीड़े - कच्चे केले की सब्जी 7 से 8 दिन तक सेवन करने से पेट के कीड़े मर जाते हैं.

    चेचक - केले के बीजों का चूर्ण बनाकर शहद में मिलाकर पीने से चेचक रोग जल्दी ठीक होता है, और दूसरे लोगों को भी चेचक होने का डर नहीं रहता है. 

    पीलिया1. खाने वाला चूना 1 ग्राम को एक केले में प्रतिदिन भूखे पेट खाने से कुछ दिनों में पीलिया रोग ठीक हो जाता है. 

    2. पका हुआ केला और शहद मिलाकर खाने से पीलिया रोग में भी आराम मिलता है.


    केले के पोषक तत्व (विटामिन्स) की मात्रा – (Banana Nutrient Value Per 100 g in hindi)

    According to the USDA National Nutrients Database

    पोषक तत्व (Nutrients) मात्रा (The quantity) अनुशंसित आहार भत्ता (Recommended Dieatry Allowance - The estimated amount of a nutrient per day for good health)
    ऊर्जा (Energy) 89 Kcal 4.50 %
    कार्बोहाइड्रेट (Carbohydrates) 22.84 g 18 %
    प्रोटीन (Protein) 1.09 g 2%
    टोटल फैट (Total fat) 0.33 g 1 %
    कोलेस्ट्रॉल (cholesterol) 0 mg 0 %
    फाइबर (Dietary Fiber) 2.60 g 7 %
    फोलटेस (Folates) 20 µg 5 %
    नियासिन (Niacin) 0.665 mg 4 %
    पाइरिडोक्सिन (pyridoxine) 0.334 mg 7 %
    राइबोफ्लेविन (Riboflavin) 0.073 mg 5 %
    थायमिन (Thiamin) 0.031 mg 2 %
    विटामिन (Vitamin A) 64 IU 2 %
    विटामिन (Vitamin C) 8.7 mg 15 %
    विटामिन (Vitamin E) 0.10 mg 1 %
    विटामिन (Vitamin k) 0.5 µg 1 %
    सोडियम (Sodium) 1 mg 0 %
    पोटेशियम (Potassium) 358 mg 8 %
    आयरन (Iron) 0.26 mg 2 %
    मैग्नीशियम (Megnesium) 27 mg 7 %
    मैग्नीज (Manganese) 0.270 mg 13 %
    जिंक (Zinc) 0.15 mg 1 %
    कैल्शियम (Calcium) 5 mg 0.50 %
    कॉपर (Copper) 0.078 mg 8 %


    केला खाने का सही समय क्या होता है | What is the right time to eat banana?

    केला एक बहुत ही स्वास्थ्यवर्धक और पोषक तत्वों से भरा हुआ फल है, लेकिन इसे खाने से पहले हमें कुछ बातों का ध्यान रखना पड़ता है, तो आइए जानते हैं.

    सुबह के समय केला खाने के फायदे और नुकसान

    सुबह के समय केले का सेवन हमारे पूरे शरीर को एक नई ऊर्जा प्रदान करता है. जिससे हम अपनी दिनचर्या को बिना थकान महसूस किए ही खत्म कर लेते हैं.

    क्योंकि केले के अंदर ऊर्जा, विटामिंस, पोषक तत्व, एंटी-ऑक्सीडेंट गुण भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं जो कि हमें दिन भर ऊर्जावान बनाए रखते हैं.

    लेकिन बहुत से लोग समय की कमी के अभाव से सुबह नाश्ते के रूप में केले का सेवन खाली पेट ही कर लेते हैं जो कि बिल्कुल गलत है. 

    आयुर्वेद के अनुसार भी केले का सेवन हमें खाली पेट नहीं करना चाहिए क्योंकि इसके अंदर मैग्नीशियम, कैल्शियम, फाइबर की मात्रा अधिक होती है जिससे हमारी सेहत बिगड़ सकती है. 

    खाली पेट केला खाने से दूसरा नुकसान हमें यह होता है कि हमारी भूख भी मर जाती है. 

    रात में केला खाने के नुकसान

    बहुत से लोग रात में खाना खाने के बाद या शाम के समय केले का सेवन कर लेते हैं. इससे हमारे स्वास्थ्य को कहीं ना कहीं नुकसान पहुंच सकता है. 

    आयुर्वेद के अनुसार केले खाने का सही समय सुबह 8 बजे से लेकर 11 बजे तक का होता है. केला एक अम्लीय और ठंडी तासीर वाला फल है, इसलिए इसका सेवन रात में नुकसानदायक हो सकता है.

    रात में केले का सेवन हमें खांसी, कफ, अल्सर और पेट में दर्द जैसी समस्याएं उत्पन्न कर सकता है. इसलिए केले का सेवन हमेशा ब्रेकफास्ट के बाद सुबह और दोपहर में ही करना चाहिए.


    केला खाने के फायदे, उपयोग और नुकसान


    केले की तासीर कैसी होती है?

    केला ठंडी तासीर वाला फल है इसके खाने के फायदे भी बहुत हैं और कुछ नुकसान भी. केला एक ठंडी प्रकृति वाला फल है इसलिए इसका सेवन हमें शाम और रात में नहीं करना चाहिए.

    दूध और केला खाने के फायदे

    दूध और केला साथ में खाने से या बनाना शेक (Banana shake) पीने से हमारी सेहत को कई गजब के फायदे होते हैं. 

    ऐसे कई विटामिंस होते हैं जो दूध में नहीं होते हैं लेकिन केले के अंदर पाए जाते हैं और जो केले के अंदर नहीं होते हैं वह दूध के अंदर पाए जाते हैं, तो इसके मिश्रण से हमें हर तरह के विटामिंस, मिनरल्स और पोषक तत्वों की प्राप्ति होती है जो हमारी सेहत के लिए जरूरी होते हैं. 

    इसलिए बहुत से लोग बनाना शेक या दूध और केले का सेवन साथ में करते हैं. जैसा कि हम जानते है जो लोग जिम में वर्कआउट करते हैं वह बनाना शेक का सेवन जरूर करते हैं जिससे उन्हें भरपूर एनर्जी मिलती रहे. 

    दूध और केला साथ में खाने के नुकसान 

    बहुत से लोग दूध और केले का सेवन साथ में करते हैं जिससे हमें फायदा तो होता है लेकिन इसका नुकसान भी है. आयुर्वेद विशेषज्ञों का यह कहना है की दूध और केला साथ में लेने से हमें जठराग्नि, अपच की समस्याएं हो सकती हैं क्योंकि दूध और केले दोनों की ही तासीर ठंडी होती है.

    दूध और केला साथ में लेने से हमें सर्दी, खांसी, जुखाम, पाचन क्रिया, उल्टी और एलर्जी संबंधित समस्याएं भी उत्पन्न हो सकती है. 

    इसलिए कई विशेषज्ञों का यह कहना है कि पहले हमें दूध का सेवन करना चाहिए उसके 20-25 मिनट बाद हम केले का सेवन कर सकते हैं.

    केले खाने के नुकसान | Side effects of eating bananas in hindi

    वैसे तो केला खाने से हमारे स्वास्थ्य को कई लाभ होते हैं, लेकिन यदि हम अधिक मात्रा में केले का सेवन कर लेते हैं तो हमें कुछ परेशानियों का सामना भी करना पड़ सकता है.

    तो आइए जानते हैं केले खाने के क्या नुकसान हो सकते हैं?

    1. केले के अंदर फाइबर अधिक मात्रा में पाया जाता है इसलिए इसका अधिक मात्रा में सेवन करने से हमें पेट दर्द जैसी समस्याएं हो सकती हैं. 

    2. केले के अंदर पोटेशियम की अच्छी मात्रा पाई जाती है इसलिए इसका अधिक सेवन करने से यह हमारे शरीर को नुकसान पहुंचा सकता है. 

    3. केले का अधिक मात्रा में सेवन करना हमारे शरीर के वजन को बढ़ा सकता है. 

    4. केले का अधिक मात्रा में सेवन करने से दांतों में कीड़ा लगने का डर रहता है. 

    5. जिन व्यक्तियों को गुर्दे सही रूप से काम नहीं करते हैं उन्हें केला का सेवन नहीं करना चाहिए. 

    6. कच्चे केले का अधिक मात्रा में सेवन करने से हमें कब्ज की समस्या भी उत्पन्न हो सकती है.

    आखिरी शब्द | last word

    इस पूरे लेख में हमने यह जाना कि केले खाने से हमारी सेहत को क्या फायदे और नुकसान होते हैं. हमने यह भी जाना की केले का हम कैसे उपयोग करते हैं?

    दूध और केला साथ में खाने के क्या फायदे और नुकसान होते हैं, केला खाने का सही समय और इसकी तासीर के बारे में.

    अगर हम केले की तुलना किसी दूसरे फलों से करते हैं तो केला एक सस्ता और पोषक तत्वों से भरा हुआ फल है, जो स्वादिष्ट तो है ही और साथ में हमारी सेहत का भी ख्याल रखता है.

    अंत में मैं यही कहूंगा कि हमें हर उन फलों का सेवन करना चाहिए जो मौसम के अनुसार आते रहते हैं. धन्यवाद

    यह भी पढ़ें

    Share Post

    0 Comments: