पानी पीने के 12 कमाल के फायदे, कब, कैसे, तरीके और नुकसान - Benefits of drinking water, when, how, Ways and disadvantages in hindi

पानी पीने के 12 कमाल के फायदे, कब, कैसे, तरीके और नुकसान

हम अपने इस लेख में पानी पीने के सेहतमंद फायदों के बारे में, पानी से जुड़ी हुई कुछ जानकारी, पानी कब, कैसे और पीने के क्या तरीके होते हैं और इसके क्या नुकसान हो सकते हैं बताने जा रहे हैं.

यह कहावत तो आप सब ने सुनी ही होगी की जल ही जीवन है जल के बिना हम किसी भी सजीव वस्तु की कल्पना भी नहीं कर सकते हैं.

पानी जीवन का आधार है चाहे वह मनुष्य, पशु और पक्षी कोई भी हो हर किसी को पानी की जरूरत है. पानी हमें जीवन तो देता ही है साथ में हमारे शरीर को सेहतमंद और कई बीमारियों से भी बचाए रखता है.

हमारे शरीर में पानी की सही मात्रा होना बहुत जरूरी है क्योंकि पानी के अपने ही अलग कार्य होते हैं जो हमारे शरीर को स्वस्थ रखने के लिए जरूरी होते है.

"जल बचाएं जीवन बचाएं (save water Save Life)"

अगर हमारे शरीर को पानी की पर्याप्त मात्रा ना मिले तो हमें डिहाइड्रेशन, उल्टी, दस्त, अस्थमा, रक्तचाप, एलर्जी और कब्ज जैसी कई समस्याएं होने लगती हैं. मैं तो यह कहूंगा कि पानी अपने आप में ही एक बहुत बड़ी दवाई का रूप है या किसी औषधि से कम नहीं.

यदि आप रोज 8 से 10 गिलास पानी पीते हैं तो आपके शरीर में पर्याप्त मात्रा में पानी होता है. जिससे हमारी सेहत को कई स्वास्थ्यवर्धक फायदे होते हैं.

जैसे हमारी त्वचा ग्लो करती है, बालों के लिए, पेट के लिए, वजन घटाने में, सिर दर्द, गर्मियों में शरीर का तापमान नियंत्रण करने के लिए, डिहाइड्रेशन और लू से बचाने के लिए, महिलाओं में यूरिन इन्फेक्शन की समस्या को काफी हद तक खत्म करने के लिए आदि.

पानी के अंदर बहुत सारे पोषक तत्व होते हैं जो हमारे शरीर को डिटॉक्सिफाई करते हैं और कई रोगों से लड़ने के लिए हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली (immune system) को मजबूत भी करते हैं. आइए हम आगे पानी से जुड़े हुए कुछ रोचक तथ्यों के बारे में जानते हैं.


    पानी से जुड़ी हुई कुछ रोचक जानकारी – (Some amazing information related to water in hindi)


    • पानी एक आम रसायनिक पदार्थ की तरह है जो हाइड्रोजन और ऑक्सीजन परमाणु से मिलकर बना है. 
    • पृथ्वी का 97% खारा जल महासागरों में, 2.4% ध्रुवीय बर्फ के रूप में और 0.6% नदियों में, झीलों और तालाबों में पाया जाता है.
    • जो जल पीने योग्य होता है उसका लगभग 70% पानी खेती के लिए प्रयोग होता है. 
    • साधारण नाम – जल, पानी, नीर.
    • अन्य भाषाओं में पानी के नाम जैसे कि अंग्रेजी में – वाटर (water), तमिल – थांनेर (Thanner), मलयालम – वेल्लम (Vellam), तेलुगू – निरु (Niru), कन्नड़ – निरु (Niru), हिंदी – पानी, मराठी – जल (Jal).
    • पानी को वैज्ञानिक लोग यूनिवर्सल सॉल्वेंट (universal solvent) भी कहते हैं क्योंकि पानी के अंदर हम बहुत से पदार्थों को घोल सकते हैं. 
    • ज्यादा पानी पीने से हमें नुकसान भी हो सकता है क्योंकि ज्यादा पानी पीने से हमारा मस्तिष्क असंतुलित हो जाता है और हमें नशे जैसा प्रतीत होने लगता है.
    • हमारा शरीर का 60 से 70% हिस्सा पानी से बना हुआ होता है. हमें प्रतिदिन 8 से 10 गिलास पानी की आवश्यकता होती है जो हमारे शरीर के लिए आवश्यक होता है.
    • व्यक्ति के मस्तिष्क का 70% हिस्सा जल से बना हुआ होता है. 
    • यदि हमारे शरीर के अंदर 10% पानी की कमी हो जाए तो हमारी मौत भी हो सकती है.
    • दातों में 10%, त्वचा में 20%, मस्तिष्क में 74.5%, मांसपेशियों में 75.6, खून में 83% और शरीर की हड्डियों में 22% पानी होता है.

    पानी पीने के स्वास्थ्यवर्धक फायदे – (Health benefits of drinking water in hindi)

    पानी पीने से हमारी सेहत को कई स्वास्थ्यवर्धक लाभ होते हैं, हम कई बीमारियों से भी बचे रहते हैं, पूरे दिन हम अपने आप को ऊर्जावान और फिट महसूस करते हैं. आइए पानी पीने के फायदों के बारे में विस्तार से जानते हैं.

    1- घटाएं मोटापा या वजन – (Reduce obesity or weight in hindi)


    हमारे शरीर का वजन या मोटापा बढ़ने के कई कारण होते हैं जैसे कि तनाव, नींद की कमी, एक ही जगह बहुत देर तक बैठे रहना, गलत खानपान, खाना खाकर सो जाना, इन सबके कारण हमारा मोटापा तो बढ़ता ही है साथ में कई बीमारियां भी होने लगती है.

    पानी पीने से आप अपने वजन को या जो आपके शरीर पर चर्बी का भाग है उसे धीरे-धीरे कम कर सकते हैं. यदि आप नियमित रूप से पानी पीते हैं तो यह आपके शरीर के मेटाबॉलिज्म स्तर को बढ़ाता है और आपके शरीर से धीरे-धीरे चर्बी को कम करता है.

    सुबह उठते ही 2-3 गिलास पानी गुनगुना करें और उसे नियमित रूप से पिए इससे आपका वजन भी कम होगा पेट भी अच्छे से साफ होगा क्योंकि हल्का गुनगुना पानी हमारे शरीर के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है.


    2- प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ाने के लिए – (To enhance the immune system in hindi)


    आज के समय में हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली (immune system) मजबूत होना बहुत जरूरी है क्योंकि बाहर का मौसम और वातावरण इतना खराब हो चुका है कि थोड़े से ही इंफेक्शन से हम बीमार होने लगते हैं. यदि आप नियमित रूप से पानी पीते हैं तो यह आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करता है.

    आपके शरीर से विषैले पदार्थों को बाहर निकालता है, हम पूरे दिन ऊर्जावान बने रहते हैं और छोटी-छोटी बीमारियों से भी बचे रहते हैं. आपने देखा होगा कि मार्केट में बहुत से ऐसे प्रोडक्ट्स आते हैं जो हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करने के लिए होते हैं क्योंकि जितना आपका इम्यून सिस्टम अच्छा होगा अब उतनी ही तंदुरुस्त रहेंगे और एक्टिव रहेंगे.

    3- विषैले पदार्थों को बाहर निकालना – (Extrusion of toxic substances in hindi)


    हमारे शरीर का डिटॉक्सिफाई होना बहुत जरूरी होता है क्योंकि यदि हमारा शरीर डीटॉक्सिफाई नहीं होगा या हमारे शरीर के अंदर विषैले पदार्थ बाहर नहीं निकलेंगे तो हमें थकान, त्वचा संबंधी समस्या, एलर्जी संक्रमण, पेट फूलना, मासिक धर्म जैसी समस्याएं होने लगती हैं.

    डिटॉक्सिफिकेशन का मतलब होता है हमारी खून का शुद्ध होना यदि हम नियमित रूप से पानी पीते हैं तो यह हमारे गुर्दे, आंतों, फेफड़ों, लीवर से, विषैले पदार्थों को बाहर निकालता है और साथ में हमारे इम्यून सिस्टम को मजबूत भी करता है.

    4- डिहाइड्रेशन से बचाव – (Dehydration prevention in hindi)


    गर्मियों में अक्सर हमें डिहाइड्रेशन या निर्जलीकरण होने का खतरा रहता है क्योंकि गर्मियों में हमारे शरीर से पानी पसीना बनकर, मल, मूत्र के द्वारा निकल जाता है. जब हमारे शरीर में पानी की कमी होने लगती है तो उस स्थिति में हमें डिहाइड्रेशन की समस्या होने लगती है.

    डिहाइड्रेशन में मुंह सूखना, कमजोरी व चक्कर आना, शरीर का तापमान कम हो जाना, मूत्र पीले रंग का होना आदि लक्षण दिखाई देने लगते हैं. इसलिए गर्मियों में आप पर्याप्त मात्रा में पानी पिए जिससे आपको डिहाइड्रेशन की समस्या ना हो. डिहाइड्रेशन से बचने के लिए नींबू पानी, नारियल पानी, आम का पना यह भी पी सकते हैं.

    5- लू लगने से बचाव – (Heatstroke in hindi)


    गर्मियों में हमें डिहाइड्रेशन की समस्या तो होती ही है लेकिन पानी की कमी से हमें लू लगने का भी खतरा रहता है. अक्सर मई और जून में जब तापमान अपनी चरम सीमा पर होता है उस समय बहुत ही ज्यादा गर्म हवाएं चलती हैं जिससे हमें लू लगने का खतरा रहता है.

    लू लगने के बाद हमारे सिर में भारीपन, बुखार, ऐठन, हाथ पैरों में दर्द, सांस की गति सही से ना चलना, हाथों की हथेली और पैरों के तलवों में जलन मचती है.

    इसलिए आप लू (Heatstroke) के खतरे से बचने के लिए हमेशा जब भी बाहर निकले पर्याप्त मात्रा में पानी पीकर जाए और जहां भी आपको पानी मिले आप पीते रहें अपने साथ एक बोतल रखें पानी में नींबू नमक मिलाकर भी पी सकते हैं.

    6- सिर दर्द में दे राहत – (Give relief in headache in hindi)


    गर्मियों में या किसी भी सीजन में पानी की कमी से हमारे सिर में दर्द होने लगता है क्योंकि हमारे मस्तिष्क का 70% हिस्सा जल से बना हुआ होता है. आजकल की लाइफ स्टाइल से, शोरगुल, तनाव, पानी की कमी से, पर्याप्त नींद ना लेना इन सबसे हमारे सिर में सिर दर्द या माइग्रेन की समस्या होने लगती है.

    इसलिए यदि आपके सिर में दर्द हो रहा है तो आप पर्याप्त मात्रा में धीरे-धीरे पानी पीते रहें इससे आपके सिर दर्द में आराम मिलेगा और आपका मस्तिष्क पूरे दिन एक्टिव रहेगा.

    यदि आप सुबह उठकर खाली पेट पर पानी पीते हैं यह आपके मस्तिष्क के लिए आपके शरीर के लिए बहुत अच्छा होता है.

    सुबह उठकर पानी पीने से हमारे शरीर की सफाई तो होती ही है और हमारे मस्तिष्क की मांसपेशियों को आराम मिलता है या तनाव मुक्त रखने के लिए अच्छा रहता है.
    पानी पीने के 12 कमाल के फायदे, कब, कैसे, तरीके और नुकसान
    पानी पीने के सेहतमंद फायदे (Healthy benefits of drinking water)

    7- पेट और पाचन क्रिया के लिए फायदेमंद – (Beneficial for stomach and digestion in hindi)


    यदि आप सुबह खाली पेट पानी पीते हैं तो यह आपके पेट की समस्याओं के लिए बहुत फायदेमंद होता है सुबह उठकर खाली पेट 2-3 गिलास पानी पीने से यह हमारे शरीर की सफाई भी करता है.

    विषैले तत्वों को बाहर निकालता है, सुबह हमारा पेट सही से साफ होता है, कब्ज जैसी समस्याएं भी धीरे-धीरे खत्म होने लगती है और आंतों की सफाई भी होती है.

    यदि आप सुबह पानी को हल्का सा गुनगुना करके पीते हैं तो यह और भी ज्यादा फायदेमंद होता है और हमारी पाचन क्रिया में भी सुधार आता है.


    8- मूत्र संबंधी समस्याओं से बचाव – (Prevent urological problems in hindi) 


    सुबह उठकर पानी पीने से या पर्याप्त मात्रा में पानी पीने से हमारे मूत्र संबंधी समस्याओं में भी आराम मिलता है. जब हम रात में 8 घंटे की नींद लेने के बाद सुबह सोकर उठते हैं और हम सुबह पर्याप्त मात्रा में पानी पीते हैं.

    तो रात भर में हमारे शरीर में जमे हुए हानिकारक या विषैले पदार्थ मूत्र के द्वारा एक ही बार में बाहर निकलने में आसानी होती है और पर्याप्त मात्रा में पानी पीने से पेशाब में जलन, यूरिन इन्फेक्शन जैसी समस्याओं में भी आराम मिलता है.

    9- शरीर को ऊर्जा देने के लिए – (To give the body energy in hindi) 


    यदि हम बहुत जल्द थकान महसूस करने लगते हैं, लेजी हो जाते हैं, किसी भी काम को करने में आलस आता है यह सब हमारे शरीर की ऊर्जा (energy) पर निर्भर करता है. इस कमजोरी को दूर करने के लिए यदि आप पर्याप्त मात्रा में दिन भर पानी पीते हैं.

    तो यह आपकी लाल रक्त कोशिकाओं को बढ़ाता है जिससे हमें ज्यादा ऑक्सीजन मिलती है और हम ऊर्जावान बने रहते हैं. पानी के अंदर ऐसे बहुत से पौष्टिक तत्व होते हैं जो हमारे एनर्जी लेवल को बढ़ाते हैं जिससे हम पूरे समय एनर्जेटिक रहते हैं.

    10- त्वचा को जवां बनाए रखने के लिए – (To keep the skin young in hindi)


    आज के समय में हर कोई चाहता है कि वह भीड़ से अलग दिखाई दे वह मानसिक और शारीरिक रूप से फिट और सुंदर दिखे. लेकिन आजकल की भागदौड़ की जिंदगी में इस खराब वातावरण में और अधिकतर गर्मियों के मौसम में हमारी त्वचा रूखी, बेजान और ढीली पड़ने लगती है.

    इन सबसे बचने के लिए अपनी त्वचा को हमेशा चमकदार और जवान बनाए रखने के लिए दिन भर में 8 से 10 गिलास पानी का सेवन करना है.

    यदि आप दिन भर में पर्याप्त मात्रा में पानी पीते हैं तो यह हमारे शरीर को हाइड्रेट रखता है और डिटॉक्सिफाई करता है जिससे हमारी त्वचा चमकती रहती है.

    11- त्वचा के लिए और भी फायदे – (More benefits for the skin in hindi)


    यदि आपकी त्वचा उम्र के साथ ढीली पड़ती जा रही है, चेहरे पर झुर्रियां आ रही हैं, कील मुहांसों की शिकायत हो रही है, चेहरे पर रोम छिद्रों को बंद करने के लिए, इन सब समस्याओं को खत्म करने के लिए पानी पीना बहुत फायदेमंद होता है.

    आपको ना ही कोई क्रीम की जरूरत है ना ही किसी मैडिशन की बस केवल दिन भर में 8 से 10 गिलास पानी जरूर पिएं और हमेशा अपनी त्वचा को चमकदार और जवान बनाए रखें.


    12- बालों के लिए फायदेमंद – (Beneficial for hair in hindi)


    पानी पीना हमारे बालों के लिए बहुत फायदेमंद होता है पानी पीने से हमारे बाल मजबूत, चमकदार होते हैं. पानी के अंदर बहुत से ऐसे पौष्टिक तत्व, मिनरल्स होते हैं जो हमारे बालों के लिए फायदेमंद होते हैं. जिससे हमारे बालों की ग्रोथ अच्छी होती है और जो बाल बेजान हो गए हैं उसके लिए भी पानी फायदेमंद होता है.

    पानी पीने के 12 कमाल के फायदे, कब, कैसे, तरीके और नुकसान

    पानी कैसे पिए या तरीके – (How to drink water or ways in hindi)

    1- जब हम पानी पीते हैं तो हमें खड़े होकर पानी नहीं पीना चाहिए क्योंकि इससे पानी की पोषक तत्व सही रूप से शरीर को मिल नहीं पाते हैं, हमेशा बैठकर पानी पिए.

    2- पानी पीने का सही तरीका सिप-सिप करके होता है जैसे हम चाय या कॉफी पीते हैं उसी तरह से धीरे-धीरे हमें पानी भी पीना चाहिए. हमारे मुंह के अंदर जमी हुई लार पानी के साथ हमारे पेट में जा सके जिससे हमारे पाचन तंत्र को काफी लाभ होता है.

    3- कभी भी हमें ज्यादा ठंडा पानी नहीं पीना चाहिए क्योंकि ज्यादा ठंडा पानी पीने से हमारे शरीर को नुकसान हो सकता है इसलिए आप गर्मियों में मटके का पानी या सादा पानी पिए तो ज्यादा अच्छा रहेगा.

    4- जब आप सुबह नहाने जाते हैं तो उसके आधे घंटे पहले पानी पिए और रात में जब आप सोने जाते हैं तो उससे 15 मिनट पहले पानी पिए जिससे आपको हार्ट अटैक आने का खतरा कम होता है.

    5- जब हम सुबह सोकर उठते हैं तो बिना मुंह धोए हमें कम से कम दो या तीन गिलास पानी पीना चाहिए. सुबह पानी पीने से रात भर शरीर के अंदर जमा हुए विषैले तत्व बाहर निकलते हैं, हमारी बॉडी डिटॉक्सिफाई होती है, शरीर की अच्छी से सफाई होती है और हमें कब्ज में भी राहत मिलती है.

    6- जब हम भोजन करते हैं तो हमें भोजन करने की आधे घंटे पहले पानी पीना चाहिए और कभी भी खाना खाने के बाद तुरंत पानी नहीं पीना चाहिए.

    कम से कम 1 घंटे बाद पानी पिए इससे आपकी पाचन क्रिया अच्छी रहेगी आपका खाना अच्छे से पचेगा और पेट की भी काफी समस्याएं खत्म होगी.

    7- जब हम किसी बोतल से पानी पीते हैं या मुंह ऊपर करके बोतल से पानी पीते हैं तो वह तरीका गलत है और इससे हमें नुकसान भी होता है आप हमेशा पानी को गिलास में डालें और धीरे-धीरे पिए.

    8- जब आप वर्कआउट करने जा रहे हैं तो उसके आधे घंटे पहले पानी पिए और वर्कआउट करने के आधे घंटे बाद पानी पिए क्योंकि वर्कआउट करने से हमारे शरीर में मौजूद पानी पसीना बनकर बाहर निकल जाता है जिससे हमें डिहाइड्रेशन की समस्या हो सकती है.

    9- यदि आप रात में एक तांबे के बर्तन में पानी भरकर रख दें और उसे सुबह पिए तो यह सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होता है और इस पानी को गर्म करने की भी जरूरत नहीं है.

    क्योंकि इस पानी के अंदर वह सारे गुण आ जाते हैं जो गर्म पानी के अंदर होते हैं. आयुर्वेद के अनुसार तांबे के बर्तन का पानी हमारे पाचन क्रिया के लिए भी फायदेमंद होता है.

    10- जब आपके होंठ सूख रहे हो आपको प्यास लग रही हो तब आपको पानी पीना चाहिए बार-बार पानी पीते रहना भी सही नहीं होता है.

    11- कुछ ऐसे फल होते हैं जिनके बाद हमें पानी नहीं पीना चाहिए जैसे खरबूजा, खीरा, अमरूद नहीं तो हमें जुखाम और खांसी होने की संभावना हो सकती है.

    12- यदि आप गर्मियों के दिनों में धूप से आ रहे हैं तो आप कभी भी एकदम आकर ठंडा पानी ना पिए नहीं तो यह आपकी सेहत के लिए नुकसानदायक होगा.


    अधिक पानी पीने के नुकसान – (Disadvantages of drinking too much water in hindi) 

    पानी पीने के फायदे बहुत हैं और नुकसान कम लेकिन किसी भी चीज का अधिक मात्रा में सेवन करने से वह हमारे शरीर पर विपरीत प्रभाव डाल सकता है, हमारे स्वास्थ्य को भी खतरे में डाल सकता है अधिक पानी पीने से क्या नुकसान हो सकते हैं आइए जानते हैं.

    1- यदि हम अधिक मात्रा में पानी पीते हैं तो यह हमारी किडनी पर अतिरिक्त दबाव डाल सकता है.

    2- जरूरत से ज्यादा पानी पीने से हमारा मोटापा भी बढ़ता है क्योंकि ज्यादा पानी पीने से किडनी हमारे शरीर से पूरे पानी को बाहर निकालने में सक्षम नहीं होती है और धीरे-धीरे हमारा मोटापा बढ़ने लगता है.

    3- जब आपको प्यास लगे तभी आपको पानी पीना चाहिए यदि आप बेवजह पानी पीते रहते हैं तो यह आपकी सेहत को बिगाड़ सकता है क्योंकि शरीर के अंदर मौजूद इलेक्ट्रोलाइट असंतुलित हो जाते हैं.

    4- ज्यादा पानी पीने से हमारी मस्तिष्क में भी समस्या हो सकती है क्योंकि ज्यादा पानी पीने से सोडियम का लेवल कम होने लगता है और इससे मस्तिष्क में सूजन आ सकती है.

    5- रिपोर्टों के अनुसार ज्यादा पानी पीने से हमारे दिल को खतरा भी हो सकता है.

    6- यदि आप अधिक मात्रा में पानी पीते हैं तो यह हमारी पाचन क्रिया पर विपरीत प्रभाव डाल सकता है क्योंकि हमारे शरीर के अंदर जो पाचन रस होता है वह काम करना बंद कर देता है और धीरे-धीरे हमें पाचन क्रिया संबंधित समस्याएं होने लगती है.


    निष्कर्ष – (The conclusion in hindi)

    हमने अपनी इस पूरी पोस्ट में यह बताया कि पानी पीने के क्या सेहतमंद फायदे हैं पानी कब कैसे और पीने का तरीका क्या होता है.

    अधिक मात्रा में पानी पीने से हमें क्या नुकसान हो सकते हैं. इस पूरी पोस्ट को पढ़कर हमें यह निष्कर्ष मिलता है कि हमें प्रतिदिन 8 से 10 गिलास पानी पीना चाहिए जब हमें प्यास लगे तभी हमें पानी पीना चाहिए.

    सुबह उठकर पानी पीना सेहत के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है यदि आप पानी को सुबह हल्का गुनगुना करके पीते हैं तो इसके हमारी सेहत के लिए बहुत अचूक फायदे होते हैं.

    पानी जीवन का आधार है जिसके बिना जीवन की कल्पना करना असंभव है इसलिए हमें पानी को बचाना चाहिए व्यर्थ में पानी को बेकार ना करें क्योंकि आने वाले समय में हमें पानी की काफी समस्या हो सकती है इसलिए जल बचाएं जीवन बचाएं. धन्यवाद

    और भी पढ़ें

    Share Post

    0 Comments: